जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे और दिवंगत गायक एसपी बालासुब्रमण्यम को सोमवार को इस साल का पद्म विभूषण पुरस्कार देने की घोषणा की गई. वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत तरुण गोगोई तथा पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत केशुभाई पटेल, पूर्व केंद्रीय मंत्री दिवंगत राम विलास पासवान और पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन का नाम पद्म भूषण पुरस्कार पाने वालों में शामिल है.

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा कि राष्ट्रपति ने 119 पद्म पुरस्कार दिए जाने को मंजूरी दी है जिनमें सात पद्म विभूषण, 10 पद्म भूषण और 102 पद्मश्री हैं.

पद्म पुरस्कार विजेताओं में 29 महिलाएं हैं. इनमें 10 लोग विदेशी, प्रवासी भारतीय, पीआईओ और ओसीआई तथा एक व्यक्ति ट्रांसजेंडर श्रेणी से हैं.

इनमें 16 लोगों को पद्म पुरस्कार मरणोपरांत दिए गए हैं.

कलाकार सुदर्शन साहू को पद्म विभूषण, प्रधानमंत्री के पूर्व प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्र, धार्मिक नेता दिवंगत कल्बे सादिक और सामाजिक कार्यकर्ता तरलोचन सिंह को पद्म भूषण दिया गया है. पूर्व राज्यपाल दिवंगत मृदुला सिन्हा और पूर्व केंद्रीय मंत्री बिजोय चक्रवर्ती को पद्मश्री पुरस्कार मिला है.

कर्नाटक के प्रख्यात हृदय रोग विशेषज्ञ बी एम हेगड़े, भारतीय-अमेरिकी भौतिक विज्ञानी नरिन्दर सिंह कपानी (मरणोपरांत), इस्लामी विद्वान मौलाना वहीदुद्दीन और पुरातत्वविद बी बी लाल समेत सात लोगों को पद्म विभूषण से सम्मानित किया जाएगा.

पद्म भूषण से सम्मानित होने वाली हस्तियों की सूची में कर्नाटक की संगीतकार कृष्ण नायर शांता कुमारी चित्रा, कन्नड़ कवि तथा नाटक लेखक चंद्रशेखर कांबरा और उद्योगपति रजनीकांत देवीदास श्रॉफ का नाम शामिल हैं.

पद्म श्री से सम्मानित की जाने वाली हस्तियों की सूची में बांग्लादेश मुक्ति संग्राम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले कर्नल काजी सज्जाद अली जहीर, उत्तर प्रदेश के कलाकार गुलफाम अहमद , तमिलनाडु की बास्केटबॉल खिलाड़ी पी अनीता और पश्चिम बंगाल के साहित्यकार सुजित चट्टोपाध्याय का नाम शामिल है.

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया, ''प्रतिष्ठित पद्म पुरस्कारों से सम्मानित की जाने वालीं सभी हस्तियों को बधाई. मोदी सरकार पद्म पुरस्कारों के जरिये आम लोगों के असाधारण कार्य को सम्मानित कर रही है. भगवान करे कि ये पुरस्कार विजेता इसी जुनून के साथ समाज और मानवता की सेवा करते रहें. ''