चंडीगढ़, 23 मई (भाषा) हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि राज्य में ब्लैक फंगस के कुल मामले रविवार को बढ़कर 421 हो गए जिसमें से सबसे अधिक 149 मरीज गुरुग्राम से सामने आये हैं।

विज ने कहा कि राज्य सरकार ने ब्लैक फंगस के इलाज में इस्तेमाल होने वाले एम्फोटेरिसिन-बी के 12,000 इंजेक्शन की मांग केंद्र सरकार से की है।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि वर्तमान में मरीजों के इलाज के लिए एम्फोटेरिसिन-बी इंजेक्शन की 1,250 शीशियां उपलब्ध हैं।

उन्होंने कहा कि राज्य में अब तक ब्लैक फंगस के 421 मामले सामने आए हैं और इन मरीजों का राज्य के विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

विज के हवाले से एक बयान में कहा गया है कि ब्लैक फंगस के सबसे ज्यादा 149 मामले गुरुग्राम से हैं।

उन्होंने कहा कि हिसार से 88, फरीदाबाद से 50, रोहतक से 26, सिरसा से 25, करनाल से 17, पानीपत से 15 और अंबाला से 11 ब्लैक फंगस के मामले सामने आए हैं।

विज ने कहा कि राज्य के सभी मेडिकल कॉलेजों में इस बीमारी के इलाज के लिए 20-20 बिस्तर आरक्षित किए गए हैं, जहां सभी जिलों के मरीजों को रेफर किया जा रहा है।

राज्य में ब्लैक फंगस या म्यूकोरमाइकोसिस के मामलों की बढ़ती संख्या के बीच मंत्री ने हाल ही में बीमारी के प्रबंधन के संबंध में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक बैठक की अध्यक्षता की थी।

पिछले सप्ताह राज्य में ब्लैक फंगस को अधिसूचित रोग घोषित किया गया था। डॉक्टरों को अब ऐसे मामलों की रिपोर्ट संबंधित मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) को देनी होगी।