फिल्म जगत में ‘किंग खान’ को कौन नहीं जानता लेकिन उनके हमनाम क्रिकेटर शाहरूख खान रजनीकांत के बहुत बड़े फैन हैं. हालांकि, इस खान को भी कामयाबी रातोंरात नहीं मिली बल्कि चेन्नई के वेलाचेरी इलाके में रहने वाले शाहरुख ने इसके लिये काफी मेहनत की है और इसका फल उन्हें IPL में पंजाब किंग्स के साथ 5.25 करोड़ रूपये के करार के रूप में मिला.

वहीं, शाहरुख का कहना है कि वह IPL के चकाचौंध से हट कर उनका फोकस अभी विजय हजारे ट्रॉफी पर है. जो शनिवार से शुरू होने वाला है.

यह भी पढ़ेंः उधर लद्दाख में पीछे हटा चीन, इधर IPL में हुई VIVO की वापसी, होगा टाइटल स्पॉन्सर

एम शाहरूख खान बचपन से ही क्रिकेट और सिनेमा के दीवाने हैं. चमड़े के व्यापारी उनके पिता मसूद और उनकी मां लुबना ने उनके सपने पूरे करने में काफी मदद की.

शाहरूख ने कहा ,‘‘जब नीलामी में मेरा नाम आया तो मैं काफी नर्वस था. मैं खुशी से फूला नहीं समा रहा था. बस में मेरे साथी, खासकर कप्तान दिनेश कार्तिक बहुत खुश थे.’’

तमिलनाडु टीम के साथ विजय हजारे ट्रॉफी के लिये इन दिनों इंदौर में मौजूद 25 वर्ष के शाहरूख ने कहा ,‘‘मैं टेनिस गेंद से स्कूल में क्रिकेट खेलता था. मैने डॉन बॉस्को और सेंट बेडे से स्कूल की पढाई की.’’

यह भी पढ़ें- विराट कोहली को परेशान करने वाले तेज गेंदबाज को RCB ने 15 करोड़ में खरीद लिया

इन्हीं स्कूलों से आर अश्विन, दिनेश कार्तिक और के श्रीकांत जैसे क्रिकेटर भी निकले हैं. शाहरूख ने कहा कि आईपीएल करार की चकाचौंध में उनका फोकस नहीं हटा है और उनकी नजरें शनिवार से शुरू हो रही विजय हजारे ट्रॉफी पर है.

उन्होंने कहा ,‘‘मैं आईपीएल के बारे में अभी नहीं सोचना चाहता क्योंकि उसमें दो महीने का समय है. मेरा फोकस विजय हजारे ट्रॉफी पर है.’’

तमिलनाडु के ही सी हरि निशांत को 20 लाख रूपये की बेसप्राइज पर चेन्नई सुपर किंग्स ने खरीदा.

उन्होंने कहा ,‘‘पहले दौर में नहीं बिकने के बाद मैं निराश था. इसके बाद मैं डिनर करने चला गया जब मेरे पिता ने बताया कि मेरा नाम फिर आया है. इसके बाद मेरे साथियों ने बताया कि सीएसके ने मुझे खरीदा है.’’

हालांकि बाद में उन्हें पता चला कि पंजाब किंग्स ने उन्हें खरीदा है.

यह भी पढ़ेंः विराट कोहली का खुलासा, '2014 में इंग्लैंड दौरे पर मैं डिप्रेशन में था, लगा दुनिया में अकेला हूं'