जयपुर, 26 मई (भाषा) जल जीवन मिशन के तहत राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों के लिय 675 परियोजनाओं को मंजूरी दी गई है। इन स्वीकृत परियोजनाओं के तहत राज्य के 1290 गांवों में 338919 घरों को नल से जल कनेक्शन दिए जाएंगे।

मिशन के तहत राज्य स्तरीय योजना स्वीकृति समिति (एसएलएसएससी) की बैठक बुधवार को अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) सुधांश पंत की अध्यक्षता में बुधवार को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से हुई।

पंत ने बताया कि बैठक में राज्य के 1136 गांवों के लिए क्षेत्रीय परियोजनाओं सहित 674 सिंगल विलेज एवं स्माल मल्टी विलेज स्कीम को मंजूरी दी गई, इनसे 249166 नल कनेक्शन दिए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि इसी प्रकार प्रमुख परियोजना के तहत बीकानेर जिले में नोखा के 154 गांवों और ढाणियों को इंदिरा गांधी नहर परियोजना आधारित सतही जल स्रोत से जोड़ने के लिए मल्टी विलेज स्कीम स्वीकृत की गई इससे 89753 हर घर नल कनेक्शन दिए जाएंगे।

पंत ने बताया कि बैठक में मुख्यमंत्री की 2021-2022 की बजट घोषणा के अनुरूप ईसरदा बांध के द्वितीय चरण में अलवर जिले के 1118 गांव एवं चार कस्बों तथा जयपुर जिले के 1429 गांवों व 7 कस्बों की परियोजना रपट (डीपीआर) बनाने के लिए एक करोड़ 2 लाख रुपये की स्वीकृति प्रदान की गई।

इसके अलावा सर्वें व विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार करने के 7 अन्य प्रस्तावों को भी मंजूरी दी गई, इस पर 859.39 लाख रुपये व्यय होंगे। इसके तहत पाली जिले के बाली ब्लॉक में 25 गांवों और 113 ढ़ाणियों में 7407 हर घर नल कनेक्शन, जोधपुर जिले में बारू-सिहरा-रानेरी पेयजल आपूर्ति योजना में 25 गांवों और 63 ढाणियों में 3959 हर घर नल कनैक्शन, झुंझुनू के सूरजगढ़ एवं उदयपुरवाटी में 284 गांवों में 93 हजार 783 हर घर नल कनेक्शन, पाली जिले में रोहट ब्लॉक के 81 गांवों में 21 हजार 466 हर घर नल कनेक्शन, प्रतापगढ़ के धरियावाद और छोटी सादड़ी में 327 गांवों में 55 हजार 301 हर घर नल कनेक्शन, उदयपुर जिले के 11 ब्लॉक के 1150 गांवों में 2 लाख 1 हजार 94 हर घर नल कनैक्शन तथा बांसवाड़ा जिले के 6 ब्लॉक के 330 गांवों में 59 हजार 132 हर घर नल कनैक्शन के प्रस्ताव शामिल है।

उन्होंने बताया कि बैठक में उदयपुर संभाग के छः जिलों में गुणवत्ता प्रभावित 229 आबादियों में 64 करोड़ 92 लाख 53 हजार की लागत से 228 आरओ प्लांट स्थापित करने को भी मंजूरी दी गई। इसके तहत, चितौड़गढ़ में 61, डूंगरपुर में 5, प्रतापगढ़ में 130, राजसमंद एवं बांसवाड़ा में 6-6 तथा उदयपुर में 20 आरओ प्लांट लगाए जाएंगे।

भाषा पृथ्वी कुंज

रंजन

रंजन