बिहार में भारतीय जनता पार्टी के विधायक और दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के चचेरे भाई नीरज कुमार सिंह उर्फ बबलू ने अभिनेता के परिवार विशेषकर उनके शोक संतप्त पिता के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी करने को लेकर शिवसेना सांसद संजय राउत को कानूनी नोटस भेजा है.

कुछ समय पहले शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में राउत ने कहा था कि पिता की ''दूसरी शादी'' से अभिनेता नाराज थे .सुशांत के उनके पिता के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध नहीं थे, और ऐसा हो सकता है कि इसी मानसिक कष्ट के कारण उन्होंने अपने करियर के शिखर पर यह कदम (आत्महत्या) उठाया हो .

सुशांत के अंतिम संस्कार के बाद उनके परिवार के साथ मुंबई गए बबलू ने अभिनेता के पिता के के सिंह के बारे में राउत द्वारा की गयी टिप्पणी को खारिज कर दिया. उन्होंने राउत को चेताते हुये कहा था कि इस तरह का बकवास करने से वह बचें नहीं तो वे उनके खिलाफ मानहानि का मुकदमा करने पर विचार कर सकते हैं. राउत ने कहा था कि 2002 में सुशांत की मां की मौत के बाद उनके पिता ने दूसरी शादी कर ली थी .

बबलू के वकील अनीश झा ने बताया कि उनके मुवक्कित ने इस मामले में राउत को बुधवार को एक कानूनी नोटिस भेजा है जिसमें उनसे कहा है कि वह संसद के एक सम्मानित सदस्य और पार्टी के एक जिम्मेदार प्रवक्ता हैं ऐसे उन्हें अपनी उक्त आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर 48 घंटे के भीतर माफी मांगनी चाहिए. उन्होंने कहा कि यदि वह ऐसा करते हैं, तो हम आगे नहीं बढ़ेंगे. अगर वह नहीं करते हैं, तो हम कानूनी उपाय की तलाश करेंगे.

सुशांत (34) बांद्रा स्थित अपने आवास में मृत पाए गए थे. उन्हें अपने कमरे की छत से लटका पाया गया था. मुंबई पुलिस द्वारा अप्राकृतिक मौत का मामला दर्ज किया गया था. पिछले 25 जुलाई को पटना के राजीव नगर थाने में सुशांत के शोक संतप्त पिता के के सिंह ने एक प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी जिसमें रिया चक्रवर्ती और उसके परिवार के खिलाफ कई आरोप लगाए थे.

सिंह के अनुरोध पर बिहार सरकार ने सुशांत के मौत के मामले की जांच सीबीआई से कराने की अनुशंसा केंद्र से की थी, जिसे केंद्र सरकार ने तुरंत स्वीकार कर लिया था.