दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि कृषि क़ानून पर बातचीच हो रही है आज नहीं तो कल उसका समाधान निकल जाएगा. उन्होंने ये भी कहा कि नए कृषि क़ानून किसानों के हित के लिए हैं, वह किसानों के ख़िलाफ़ नहीं है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के बाद संवाददाताओं से बात करते हुए कुमार ने कहा कि उनकी पार्टी मुद्दे पर सरकार के साथ है और केंद्र ने तीनों कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रही किसान यूनियनों के साथ बातचीत करने का सही रास्ता अपनाया है. कुमार ने कहा, ‘‘आशा है जल्द ही मुद्दे का समाधान हो जाएगा.’’

केंद्र के तीन कृषि कानूनों को निरस्त किए जाने की मांग को लेकर पिछले दो महीने से ज्यादा समय से दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर हजारों किसान प्रदर्शन कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें: लद्दाख में भारत और चीन की सेना ने पीछे हटना शुरू किया, देखें पीछे हटते टैंकों का Video

नीतीश कुमार ने राजद समेत प्रतिद्वंद्वी दलों के बिहार में सरकार के अपना कार्यकाल पूरा नहीं करने के दावों पर भी कटाक्ष किया. मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर इन सबसे उन्हें (विपक्ष को) पूरा प्रचार मिल रहा है तो इसमें कुछ गलत नहीं है. उन्होंने कहा कि ऐसे नेता वास्तविकता से अनभिज्ञ हैं.

पिछले साल नवंबर में बिहार में सरकार बनाने के बाद कुमार की मोदी से यह पहली मुलाकात है. बिहार के मुख्यमंत्री ने इसे शिष्टाचार मुलाकात बताते हुए कहा कि उन्होंने कोई खास मांग नहीं की और विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की.

ये भी पढ़ें: राजनाथ सिंह ने संसद में कहा- 'समाप्त हो गया है LAC पर भारत और चीन के बीच तनाव'