पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पश्चिम बंगाल में अपनी सभी चुनावी रैलियों को रद्द करने का निर्णय लिया है, साथ ही उन्होंने अन्य पार्टियों को भी इसपर विचार करने को कहा है. राहुल गांधी के इस निर्णय के बाद पश्चिम बंगाल के मंत्री व तृणमूल कांग्रेस के नेता शोभनदेव चट्टोपाध्याय ने भी किसी बड़ी रैली से दूर रहने का निर्णय लिया है.

बता दें कि इससे कुछ दिन पहले वाम मोर्चा ने कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी के बीच कहा था कि वह पश्चिम बंगाल में बड़े पैमाने पर कोई जनसभा नहीं करेगा. 

शोभनदेव चट्टोपाध्याय ने ट्वीट किया, "कोविड-19 के मामलों के बढ़ने के बीच मैंने आगामी चुनाव प्रचार के लिए भवानीपुर एसी में कोई बड़ी रैली नहीं करने का फैसला किया है, जो मैंने हमेशा पिछले चुनावों में की है. सभी से मास्क पहनने और सुरक्षित रहने का अनुरोध करता हूं."

यह भी पढ़ें- UP में फिर टूटा कोरोना संक्रमण का रिकॉर्ड, एक दिन में 27 हजार केस के साथ 120 मौत

शोभनदेव चट्टोपाध्याय भवानीपुर सीट से चुनाव मैदान में हैं. ममता बनर्जी भवानीपुर सीट से वर्तमान में विधायक हैं, हालांकि वह इस बार नंदीग्राम से चुनावी मैदान में हैं. चट्टोपाध्याय चुनावी रैलियों से दूर रहने का निर्णय लेने वाले तृणमूल के पहले नेता हैं. भवानीपुर में 26 अप्रैल को वोटिंग होनी है.

यह भी पढ़ेंः पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के बीच रिकॉर्ड कोरोना के नए मामले दर्ज