देश में कोरोना वायरस महामारी के संकट के बीच अब एयरलाइंस कंपनी IndiGo ने अपने 10 प्रतिशत कर्मचारियों की छंटनी करने का फैसला लिया है. इस बात की जानकारी कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रणजय दत्ता ने दी है.

उन्होंने कहा कि, इस समय कोरोना वायरस महामारी की वजह से पैदा हुए आर्थिक संकट के चलते कंपनी को यह फैसला लेना पड़ा.

दत्ता ने एक बयान में कहा, ‘‘मौजूदा जो हालात है, उसमें कंपनी को चलाते रहने के लिए बिना कुछ बलिदान दिए इस आर्थिक संकट से निपट पाना असंभव हो गया है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘ऐसे में हर संभव उपाय पर गौर करने के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि हमें अपने कार्यबल में 10 प्रतिशत की कमी करने का पीड़ादायक फैसला लेने की जरूरत होगी. इंडिगो के इतिहास में इतना दुखद कदम पहली बार उठाया जा रहा है.’’

बता दें इसी महीने कंपनी ने डॉक्टरों और नर्सों को किराये में 25 फीसदी छूट देने की घोषणा की थी. इंडिगो के कर्मचारियों की संख्या 31 मार्च 2019 को 23,531 थी.

इससे पहले एयर इंडिया ने भी घोषणा की थी वह अपने कुछ कर्चमारियों को 5 साल के लिए लिव विदाउट पे पर भेज रहा है.