कराची, 26 मई (भाषा) पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने मोहम्मद आमिर से राष्ट्रीय टीम प्रबंधन के साथ मतभेदों को दूर करने के लिये परिपक्वता दिखाने और भविष्य में वापसी करने का आग्रह किया।

आमिर ने मुख्य कोच मिसबाह उल हक और गेंदबाजी कोच व​कार यूनिस से मतभेदों के कारण पिछले साल दिसंबर में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था।

अब केवल विश्व स्तर पर टी20 लीग में खेलने के लिये उपलब्ध बायें हाथ के तेज गेंदबाज आमिर ने स्पष्ट किया था कि जब तक मिसबाह और यूनिस कोच हैं तब तक वह खुद को चयन के लिये उपलब्ध नहीं रखेंगे।

अख्तर ने पीटीवी से कहा, ''आमिर को यह अहसास होना चाहिए कि 'पापा' मिकी आर्थर उनका बचाव करने के लिये हमेशा साथ में नहीं रहेंगे और उसे अब परिपक्व व्यक्ति की तरह व्यवहार करना होगा।''

उन्होंने कहा, ''आपको यह समझने के लिये पर्याप्त परिपक्व होना चाहिए कि प्रबंधन आपकी इच्छा के अनुसार काम नहीं करेगा और इसलिए मुझे अपने प्रदर्शन और कड़ी मेहनत के स्तर को बढ़ाना होगा।''

अख्तर ने सीनियर बल्लेबाज मोहम्मद हफीज का उदाहरण दिया जिनके एक समय पाकिस्तानी टीम प्रबंधन के साथ मतभेद चल रहे ​थे।

उन्होंने कहा, ''प्रबंधन हफीज के खिलाफ भी था लेकिन उसने केवल रन बनाने पर ​ध्यान दिया। उसने प्रबंधन को भरपूर मौका नहीं दिया। आमिर को हफीज से सीख लेनी चाहिए। ''