तृणमूल कांग्रेस (TMC) की सांसद शताब्दी रॉय अपनी ही पार्टी से नाराज चल रही हैं. उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट में भी अपनी नाराजगी जाहिर की थी, जिसके बाद ये अटकलें तेज हो गई की वह बीजेपी में शामिल हो सकती हैं. लेकिन पार्टी की ओर से बात करने का वादा किया गया. वहीं अभिषेक बनर्जी से मुलाकात के बाद शताब्दी ने कहा कि, वह TMC साथ हैं.

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, शताब्दी रॉय ने कहा, अगर किसी एख व्यक्ति को समस्या है तो ये उसकी समस्या हो सकती है. लेकिन अगर 10 व्यक्ति बताएं तो पार्टी को इस पर सोचना चाहिए. समाधान करना चाहिए. मैं टीएमसी के साथ हूं. यही समय है, जिनको टीएमसी से प्यार है, वो टीएमसी के साथ रहेंगे.

उन्होंने बताया कि, मेरी समस्या मैंने अभिषेक बनर्जी को बताई, बात करके मुझे संतुष्टी मिली कि सही बात हो रही है, सही काम होगा. मैं जैसे चाहती हूं वैसे हो सकता है. इसी की जरूरत थी.

इससे पहले रॉय ने फेसबुक पर लिखा था, ''इस क्षेत्र में मेरा निकट संबंध है. लेकिन हाल ही में कई लोग मुझसे पूछ चुके हैं कि मैं पार्टी के विभिन्न कार्यक्रमों से नदारद क्यों हूं. मैं उनको बताना चाहती हूं कि मैं सभी कार्यक्रमों में शरीक होना चाहती हूं लेकिन मुझे मेरे संसदीय क्षेत्र में आयोजित पार्टी कार्यक्रमों की जानकारी नहीं दी जा रही, तो मैं कैसे शरीक हो सकती हूं. इसके चलते मुझे मानसिक कष्ट हुआ है.''

इसके बाद उन्होंने दिल्ली जाने के बारे में बताया था. हालांकि, उन्होंने कहा था कि, वह दिल्ली जा रही हैं इसका मतलब ये नहीं है कि वह बीजेपी में शामिल होने जा रही हूं. मैं एक सांसद हूं और मैं दिल्ली जा सकती हूं.