सावन का तीसरा सोमवार 9 अगस्त यानी आज है. ये कई मायनों में महत्वपूर्ण है. तीसरे सोमवार पर भगवान शिव के अर्द्धनारीश्वर स्वरूप की पूजा की जाती है. भगवान शिव को कई अलग-अलग रूपों में पूजा जाता है. इन्हीं रूपों में एक है उनका अर्धनारीश्वर रूप है. भगवान शंकर के अर्धनारीश्वर अवतार में शिव का आधा शरीर स्त्री और आधा शरीर पुरुष का है. शिव का यह अवतार स्त्री और पुरुष की समानता को दर्शाता है.

Sawan 2021: सावन के पावन महीने में जरूर लगाएं ये 5 पौधे, भोलेनाथ बदल देंगे तकदीर

शुभ मुहूर्त

सावन के तीसरे सोमवार को अभिजीत मुहूर्त सुबह 11:59 बजे से दोपहर 12:53 बजे तक रहेगा. सावन के तीसरे सोमवार को कर्क राशि में चंद्रमा और सूर्य की युति बनेगी, वहीं सिंह राशि में तीन ग्रहों की युति बन रही है.

Sawan 2021: सावन के सोमवार की पूजा में बेलपत्र की जगह चढ़ाए ये दालें

पौराणिक कथा के अनुसार ब्रह्मा जी को सृष्टि के निर्माण का जिम्मा सौंपा गया था, तब तक भगवान शिव ने सिर्फ विष्णु और ब्रह्मा जी को ही अवतरित किया था और किसी भी नारी की उत्पत्ति नहीं हुई थी. 

Sawan 2021: मालामाल होने के लिए सावन में घर लाएं ये 5 चीजें, करें भोलेनाथ को प्रसन्न

उन्होंने शिव को प्रसन्न करने के लिए कठोर तप किया. ब्रह्मा के कठोर तप से शिव प्रसन्न हुए और ब्रह्मा जी की समस्या के समाधान हेतु शिव अर्धनारीश्वर स्वरूप में प्रकट हुए. अर्धनारीश्वर अवतार में शिव का आधा शरीर स्त्री और आधा शरीर पुरुष का था.

Sawan 2021: भूलकर भी शिवजी पर नहीं चढ़ाएं ये चीजें, हो सकती हैं परेशानी

सावन मास में इनकी विशेष पूजन से अखंड सौभाग्य, पूर्ण आयु, संतान प्राप्ति, संतान की सुरक्षा, कन्या विवाह, अकाल मृत्यु निवारण व आकस्मिक धन की प्राप्ति होती है.

#Sawan2021 #LordShiva