जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में 14 फरवरी, 2019 को हुए आतंकवादी हमले (Pulwama terror attack) में जान गंवाने वाले सुरक्षा कर्मियों के बलिदान को देश आज याद कर रहा है. पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के हमले में वीरगति को प्राप्त हुए 40 जवानों को भावपूर्ण श्रद्धांजलि देते हुए इंडियन आर्मी के चिनार कॉर्प्स ने ट्विटर पर एक भावुक वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो में एनीमेशन के माध्यम से पूरे घटनाक्रम को दर्शाया गया है. 

चिनार कॉर्प्स के इस वीडियो में एक बेहद ही भावुक कर देने वाली चीज ये बताई गई है कि इस आतंकी हमले में जवानों के शरीर इतने क्षत विक्षत हो गए थे कि मृत जवानों के करीब 18 ताबूत परिवारवालों को खाली भिजवाने पड़े थे. 

ये भी पढ़ें: अक्षय कुमार और गौतम गंभीर सहित इन Indian Celebrities ने पुलवामा अटैक में शहीदों को किया याद, कही ये बात

चिनार कॉर्प्स के साझा किए वीडियो की शुरुआत में बताया गया है कि CRPF के काफिले पर आत्मघाती हमला करने वाला आदिल अहमद डार सिर्फ 20 साल का था और उसने इस घटना को अंजाम अपने घर से महज 10 किलोमीटर की दूरी पर पुलवामा के लेथपोरा के नजदीक दिया था. 

CRPF की 75 बसों का काफिला, जिसमें 2547 जवान सवार थे 14 फरवरी 2019 को सुबह साढ़े तीन बजे घटना से 250 किलोमीटर दूर जम्मू ट्रांजिट कैंप से निकला था. काफिला उधमपुर, रामबन, कुलगाम से होता हुआ अनंतनाग जा रहा था. 14 फरवरी को दिन के करीब 3 बजकर 47 मिनट पर विस्फोटक से भरी आत्मघाती SUV कार ने काफिले की बस को टक्कर मारी. इससे जोरदार विस्फोट हुआ और 70 जवान जख्मी हो गए, वहीं 40 जवान इस कायराना आतंकी हमले में शहीद हो गए. 

जवानों के क्षत विक्षत शरीर घटना स्थल पर बिखर गए थे. सेना को मृत जवानों के 18 ताबूत करीब-करीब खाली ही परिवारों को भेजने पड़े थे. पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान से 'मोस्ट फेवर्ड नेशन' का दर्जा छीन लिया, पाकिस्तान के साथ व्यापारिक संबंध खत्म कर लिए और कूटनीतिक रूप से उसकी घेराबंदी शुरू की. 

चिनार कॉर्प्स के इस वीडियो का अंत शेर के साथ होता है- 

"बिठाकर पास बच्चों को जो कल किस्से सुनाता था,

उसे किस्सा बनाने को, क्या जायज़ ये धमाका था.

पहुंचा घर जो उसके था वो ताबूत था खाली,

उठा जो उसकी चौखट से बहुत भारी जनाज़ा था."

ये भी पढ़ें- पुलवामा हमले की बरसी: Omar Abdullah बोले- मुझे और मेरे पिता Farooq Abdullah को नजरबंद किया गया