ऑस्ट्रेलिया में खेले जा रहे चौथे टेस्ट में भी भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज के साथ बदसलूकी की गई है. इससे पहले सिडनी में खेले गए तीसरे टेस्ट में भी सिराज को ऑस्ट्रेलियाई दर्शकों ने अपशब्द कहे थे, जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट ने माफी मांगी थी. वहीं, गाबा में एक बार फिर उसी हरकत को दोहराई गई है. इस बार सिराज के साथ वाशिंगटन सुंदर को भी निशाना बनाया गया.

भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज को आस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे टेस्ट के शुरूआती दिन दर्शकों के एक समूह ने फिर से निशाना बनाया और उन्हें अपशब्द कहे तथा यहां एक अखबार में दावा किया गया कि उन्हें कुछ दर्शकों ने ‘कीड़ा’ कहा.

इस घटना से कुछ दिन पहले सिराज को तीसरे ड्रा टेस्ट के तीसरे और चौथे दिन सिडनी क्रिकेट मैदान पर दर्शकों ने नस्लीय शब्द कहे थे. सिडनी में घटना के बाद छह लोगों को स्टेडियम से निकाल दिया गया था और क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने मेहमान टीम से माफी मांगी थी.

शुक्रवार को ‘सिडनी मार्निंग हेराल्ड’ की रिपोर्ट के अनुसार एक दर्शक ने कहा कि गाबा में दर्शकों के एक वर्ग ने सिराज को निशाना बनाया.

अखबार में दर्शक (नाम - केट) के हवाले से लिखा गया, ‘‘मेरे पीछे बैठा लड़का - वाशिंगटन और सिराज - दोनों को कीड़ा बुला रहा था. ’’

उन्होंने कहा, ‘‘इसकी शुरूआत सिराज को निशाना बनाते हुए की गयी और एससीजी में जो हुआ, उसी की तर्ज पर था (जिसमें दर्शकों ने के सेरा, सेरा की धुन पर के शिराज, शिराज बोल का इस्तेमाल किया). ’’

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन इस बार यह सिराज था. मुझे संदेह है कि यह महज संयोग नहीं है कि सिराज को एससीजी में हुई घटना के बाद निशाना बनाया जा रहा है. ’’

सिडनी टेस्ट में सिराज की शिकायत के बाद करीब 10 मिनट के लिये खेल रूक गया था. बीसीसीआई ने भी मैच रैफरी से इसकी शिकायत दर्ज की थी.

सीए ने नस्लीय टिप्पणी करने वालों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई का वादा किया था जिसमें उन्हें आजीवन एससीजी से प्रतिबंधित करना भी शामिल था.

आईसीसी ने भी इस घटना की निंदा की थी और सीए से इस संदर्भ में कदम उठाने की रिपोर्ट मांगी थी.

पूर्व और मौजूदा खिलाड़ियों ने भी एससीजी पर घटना की निंदा की थी जिसमें भारतीय कप्तान विराट कोहली, आस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन और कोच जस्टिन लैंगर भी शामिल थे.