ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने दीपावली पर्व की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि इस त्योहार से मिलने वाले संदेश का इस वर्ष ‘विशेष महत्व’ है क्योंकि दुनिया कोरोना वायरस महामारी का सामना कर रही है.

मॉरिसन ने हाल ही में जारी किए गए एक वीडियो संदेश में कहा, ‘‘अंधकार को मिटाने की अवधारणा को हम सैद्धांतिक मानते आए, बजाए कि ऐसी चीज के जिसका अनुभव किया जाए और उससे उबरा जाए. दीपावली से मिलने वाले संदेश का इस वर्ष विशेष महत्व है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘धरती का हर राष्ट्र कोविड-19 वैश्विक महामारी से मुकाबला करने का प्रयास कर रहा है. जीवन और आजीविकाएं नष्ट हुई हैं और हमने कई पीढ़ियों बाद ऐसा प्रकोप देखा है. इसके बावजूद, हम सभी के पास आशा है. 2020 में पूरे साल, हमारे अपने डरों के बावजूद, हमने एक दूसरे का साथ दिया, प्रेरित किया और एक दूसरे के साथ खड़े रहे.’’ मॉरिसन ने कहा, ‘‘इस संकट का सामना डटकर और पेशेवराना तरीके से करने वाले हमारे मेडिकल क्षेत्र के पेशेवरों, शिक्षकों, सफाई कर्मियों, पुलिस, रक्षा बलों तथा कई अन्य लोगों से हमें ताकत और प्रेरणा मिली.’’

मॉरिसन ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया इस धरती का सबसे सफल बहुसांस्कृतिक राष्ट्र है और ‘‘इस दीपावली मैं उन सभी के प्रति सम्मान व्यक्त करता हूं जो लोग इस परंपरा को यहां तक लाएं.’’ विपक्ष के नेता एंथनी अल्बानीज ने भी दीपावली की शुभकामनाएं दी और आशा जताई कि अगले वर्ष सभी लोग रोशनी के इस त्योहार को मिलजुलकर मना सकेंगे. ऑस्ट्रेलिया में भारतीय मूल के लोगों की संख्या 7,00,000 से अधिक है.