फिल्मों में अक्सर आपने देखा होगा कि किसी को एकदम से शोहरत मिलती है लेकिन कुछ समय बाद जब बुरा दौर आता है तो चीजें खत्म सी होने लगती हैं. कुछ ऐसा ही हुआ दिल्ली के मालवीय नगर में स्थित बाबा का ढाबा के मालिक कांता प्रसाद के साथ, जब उनकी लोकप्रियता हुई तो खूब हुई लेकिन बाद में उन्हें नुकसान होने पर वह अपने रेस्टोरेंट को बंद करने जा रहे हैं लेकिन ढाबा चलाते रहेंगे.

यह भी पढ़ें- 22 मरीजों की मौत पर सफाई देते हुए डॉ अरिजंय जैन का जारी हुआ Video, जानें क्या बोले

यह भी पढ़ें- आगरा का पारस हॉस्पिटल सील, मॉकड्रिल में ऑक्सीजन बंद करने से कई लोगों की मौत का आरोप

ये भी पढ़ें: दुनिया की कई सरकारी और न्यूज वेबसाइट क्यों ठप हुईं? जानें वजह

ANI के मुताबिक, बाबा का ढाबा के ओनर कांता प्रसाद अपना नया रेस्टोरेंट बंद करने जा रहे हैं (जिसे उन्होंने दिसंबर,2020 में खोला था) क्योंकि उन्हें काफी नुकसान हुआ. उन्होंने कहा, 'रेस्टोरेंट पर एक लाख रुपये का निवेश किया था लेकिन हमने सिर्फ 35 हजार रुपये ही कमाया है, इसलिए हम उसे बंद करने जा रहे हैं. मैं खुश हूं कि मैं अपने बाबा के ढाबा को फिर से चलाने जा रहा हूं.'

उन्होंने आगे कहा, 'मैं ढाबा तब तक चलाऊंगा जब तक मैं जिंदा हूं. अगर यह बिजनेस भी कम चला तो इसे भी बंद कर दूंगा. हमारे पास 20 लाख रुपये हैं जिसे मैंने अपने और अपनी वाइफ के लिए रखा है.'

बता दें, अक्टूबर में एक वीडियो खूब वायरल हुआ था जिसमें एक बुजुर्ग दंपत्ति एक ढाबा चलाते हैं. यहां लोग बहुत कम आते थे और जब यूट्यूबर गौरव वासन ने उनका व्लॉग बनाकर बाबा का ढाबा फेमस कर दिया. इस ढाबे पर बेशुमार भीड़ होने लगी थी और बाबा का ढाबा इतना चला कि लोगों ने इस बुजुर्ग दंपत्ति की पैसों से खूब मदद की. हालांकि बाद में गौरव और कांता प्रसाद के बीच कुछ मनमुटाव आया और इनके बीच दूरियां बढ़ गई है.

ये भी पढ़ें: क्या पहलवान सुशील कुमार से ओलंपिक पदक छीना जा सकता है?

यह भी पढ़ें- एक गलत लत से भीख मांगने पर मजबूर हुई ये एक्ट्रेस, सुष्मिता सेन संग करती थीं मॉडलिंग

यह भी पढ़ें- Most desirable woman in India 2021: टॉप पर रिया चक्रवर्ती, पूरी लिस्ट देखें