ढाका, 26 मई (भाषा) बांग्लादेश मौसम कार्यालय ने बुधवार को भीषण चक्रवाती तूफान ‘यास’ के प्रभाव को लेकर चेतावनी दी है।

बांग्लादेश अभी इस तूफान के प्रभाव से बचा हुआ है। भारत में मंगलवार की शाम चक्रवात ‘यास’ भीषण चक्रवाती तूफान में बदल गया था। पश्चिम बंगाल, ओडिशा और झारखंड में 12 लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया।

बांग्लादेश मौसम कार्यालय ने एक बुलेटिन में कहा कि इस तूफान के प्रभाव से बांग्लादेश में (तटरेखीय) जिलों में निचले इलाकों में तीन से चार फुट ऊंचाई तक पानी भरने की आशंका है।

बुधवार को जारी बुलेटिन में दक्षिणी छत्रग्राम, कॉक्स बाजार, मोंगला और पायरा बंदरगाहों, उनके आसपास के क्षेत्रों और द्वीपों के लिए स्थानीय चेतावनी संकेत संख्या को तीन से दो कर दिया गया।

मौसम विभाग ने बताया कि खुलना, सतखीरा, बगेरघाट, झलकाठी, पिरोजपुर, बरगुना, पटुआखली, भोला, लक्ष्मीपुर, फेनी, चांदपुर और चट्टोग्राम जिले इसकी चेतावनी के दायरे में आएंगे।

इस बीच, आपदा प्रबंधन और राहत राज्य मंत्री डॉ इनामुर रहमान ने एक मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि हालांकि बांग्लादेश के तटीय इलाकें अभी ‘‘यास’’ की चपेट में नहीं आये है।