हम सभी अक्सर केला खाने के फायदों के बारे में बात करते हैं, उसका शानदार स्वात और फायदों को पसंद करते हुए इसका सेवन करते हैं. केले में कई मिनरल्स और विटामिन्स होते हैं जैसे विटामिन सी, विटामिन बी6, मैग्नीशियम, पोटैशियम, कॉपर, मैग्नीज. फल एंटी ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है और यह हमारे शरीर का पोषण ठीक तरीके से करता है.

यह भी पढ़ें- राजस्थान में 10 मई से 24 मई तक सख्त लॉकडाउन, जानिए किन चीजों पर लगा है प्रतिबंध

ये भी पढ़ें: देश में 18 से 44 साल के करीब 12 लाख लोगों को लगाई जा चुकी है कोरोना वैक्सीन

केला ब्लड शुगर लेवल को भी नॉर्मल रखता है और पाचन स्वास्थ्य को भी सुधारता है. इसके स्वास्थ्य फायदों को देखते हुए ज्यादातर स्वास्थ्य एक्सपर्ट्स केले को हर रोज की डाइट में शामिल करने की सलाह देते हैं. मगर केले खाने के कुछ साइड इफेक्ट्स भी होते हैं जिसके बारे में हम सभी को जान लेना चाहिए.

केले खाने के साइड इफेक्ट्स

वजन बढ़ना- अगर आप अपने वजन बढ़ाने के लिए केला खा रहे हैं तो हर दिन आपको ज्यादा से ज्यादा 3-4 केले ही खाएं. इसमें 105-110 कैलोरी पाई जाती है और इसे ज्यादा खाने से वजन तो बढ़ता है लेकिन अधिक मात्रा में खाने से कई नुकसान हो जाते हैं. वजन तेजी से बढ़ने के कारण कम करना मुश्किल हो जाता है.

माइग्रेन होने का खतरा- केला सबसे स्वादिष्ट और स्वस्थ समझा जाता है लेकिन माइग्रेन वालों को इसका सेवन सोच-समझकर करना चाहिए. केले में मौजूद तत्व टायरामाइन माइग्रेन की स्थिति को बढ़ा देता है. इसलिए अगर आपको माइग्रेन की प्रोबलम है तो ज्यादा केला नहीं खाइए.

हाइपरकलेमिया का खतरा- हाइपरकलेमिया एक ऐसी स्थिति होती है जो बहुत ज्यादा पोटैशियम खाने से होता है. कुछ रिसर्च में पाया गया है कि 18 ग्राम से ज्यादा पोटैशियम का सेवन एक दिन हाइपरकलेमिया पैदा कर सकता है.इसके कारण आपको मतली, हाई पल्स रेट, घबराहट जैसी समस्या हो सकती है.

दिमाग को करता है कंट्रोल- अगर आपको अनिद्रा की समस्या है तो केला आपकी मदद कर सकता है. ये नींद को प्रेरित करता है और दिमाग को आराम देकर शांति से भर देता है. मगर बहुत ज्यादा केला खाने से आपको झपकी आ सकती है.

यह भी पढ़ें- कोरोना की लहर: देश में लगातार आए 4 लाख से ज्यादा नए मामले, 24 घंटों में हुई 3915 मौत

यह भी पढ़ें- दिल्ली आने वाले इन राज्यों के लोगों को रहना होगा 14 क्वारंटीन, केजरीवाल सरकार ने दिए निर्देश