बीजेपी के एक बार के विधायक भूपेंद्र पटेल ने राजभवन में गुजरात के नए मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ले ली है. गुजरात में 15 महीने बाद विधानसभा चुनाव होने हैं. अब चुनाव से पहले बीजेपी ने विजय रुपाणी को हटाकर भूपेंद्र पटेल को मुख्यमंत्री नियुक्त किया है. उन्हें रविवार को सर्वसम्मति बीजेपी विधायक दल का नेता चुना गया था. भूपेंद्र पटेल गुजरात के 17वें मुख्यमंत्री हैं.

गुजरात की 182 सदस्यीय विधानसभा के लिए चुनाव अगले साल यानी 2022 के दिसंबर में होने हैं.

यह भी पढ़ेंः कौन हैं भूपेंद्र रजनीकांत पटेल? एक बार के विधायक होंगे गुजरात के सीएम

गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने भूपेंद्र पटेल को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. समारोह में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल समेत समेत बीजेपी के तमाम नेता शामिल हुए. मध्य प्रदेश, गोवा, हरियाणा के मुख्यमंत्री भी शामिल हुए.

भूपेंद्र पटले घाटलोडिया सीट से वर्तमान में विधायक हैं. भूपेंद्र भाई पटेल ने विधानसभा चुनाव 2017 में अहमदाबाद जिले की घाटलोडिया सीट सीट से कांग्रेस के शशिकांत वासुदेवभाई पटेल को हराया था. उन्होंने कांग्रेस के शशिकांत पटेल को एक लाख से ज्यादा वोटों से हराया था, जो उस चुनाव में जीत का सबसे बड़ा अंतर था.

अब भूपेंद्र पटेल को बड़ी जिम्मेदारी दी गई है. वहीं, 2022 की विधानसभा चुनाव को लेकर भूपेंद्र पटेल के सामने बड़ी चुनौती है. क्योंकि, बीजेपी ने आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर ही गुजरात में नए सीएम का चयन किया है. ऐसे में भूपेंद्र पटेल की जिम्मेदारी होगी की वह ऐसी सरकार चलाएं जिससे पार्टी को अगले चुनाव के लिए फायदा मिले.

यह भी पढ़ेंः भूपेंद्र पटेल के सामने विजय रुपाणी से भी बड़ी होगी ये 5 चुनौतियां

सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा रखने वाले पटेल पूर्व मुख्यमंत्री और अब उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के करीबी माने जाते हैं. आनंदीबेन 2012 में इसी सीट से चुनाव जीती थीं.