अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एयरपोर्ट के बाहर दो जगहों पर बम धमाका हुआ है. बताया जा रहा है कि ये आत्मघाती हमले थे, जिसमें कई लोगों की मौत हो गई है. रिपोर्ट के मुताबिक, एक धमाका एयरपोर्ट गेट पर हुआ जबकि दूसरा धमाका बेरन होटल के पास हुआ है. एयरपोर्ट पर भाड़ी संख्या में जब लोग मौजूद थे तभी ये धमाका हुआ है.

न्यूज़ एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, तालिबान के प्रवक्ता ने कहा कि काबुल एयरपोर्ट के बाहर हुए हमले में बच्चों समेत 13 लोगों की मौत हो गई है.

यह भी पढ़ेंः अफगानिस्तान के पूर्व IT मंत्री जो अब जर्मनी में पिज्जा डिलीवर करने को मजबूर, इनकी कहानी सुनिए

अमेरिका रक्षा विभाग के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने कहा, हम ये कंफर्म कर सकते हैं कि आबे गेट पर धमाका हुआ है. इसकी वजह से अमेरिकी और अन्य नागरिक हताहत हुए हैं. हम यह भी कंफर्म कर सकते हैं कि एक और धमाका बेरन होटल के नजदीक हुआ है. आबे गेट और बेरन होटल के बीच की दूरी कम है. हम अपडेट देना जारी रखेंगे.''

यह भी पढ़ें:ग्वांतानामो जेल में 6 साल बिताने वाला बना अफगानिस्तान का 'तालिबानी' रक्षामंत्री, जानें इसके बारे में

हालांकि, किसी संगठन ने अभी तक इस धमाके की जिम्मेदारी नहीं ली है. लेकिन ब्रिटेन की इंटेलीजेंस ने इस खतरे को लेकर अगाह किया था.

काबुल में हुए सीरियल ब्लास्ट को लेकर अमेरिकी दूतावास ने अलर्ट जारी किया है. दूतावास ने लोगों को एयरपोर्ट की ओर नहीं जाने के लिए कहा है. दूतावास ने एडवाइजरी जारी करते हुए कहा कि लोग काबुल एयरपोर्ट के पास जाने से बचें.

यह भी पढ़ें:क्या है पंजशीर? अफगानिस्तान में तालिबान के खिलाफ खड़ी इकलौती ताकत

बता दें कि पिछले दिनों तालिबान ने पंजशीर के अलावा पूरे अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया था. इसके बाद से हजारों लोग अफगानिस्तान छोड़ चुके हैं. यही नहीं तालिबान के शासन के खौफ से लोग 31 अगस्त से पहले अफगानिस्तान छोड़ देना चाहते हैं. पिछले कई दिनों से लोग एयरपोर्ट पर जमे हैं.

यह भी पढ़ें: अफगानिस्तान में तालिबान संकट: पीएम मोदी ने व्लादिमीर पुतिन से फोन पर लंबी बात की