बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस पार्टी और लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) ने अपना-अपना घोषणा पत्र जारी किया है. पटना में कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं ने घोषणा पत्र जारी किया है.

घोषणा पत्र जारी करते समय कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला, वरीष्ठ नेता राज बब्बर, शक्ति सिंह गोहिल समेत कई नेता शामिल थे.

कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र का नाम 'बदलाव पत्र' रखा है. कांग्रेस ने बताया उन्होंने अपने घोषणा पत्र में किसानों के लिए ऋण माफी, बिजली बिल माफी और सिंचाई की बढ़ती सुविधाओं के बारे में बात की हैं. अगर हमारी सरकार बिहार में सत्ता में आती है, तो हम अलग राज्य कृषि बिल लाकर एनडीए सरकार के कृषि कानूनों को खारिज कर देंगे जैसा कि हमने पंजाब में किया था.

वहीं, एलजेपी के प्रमुख चिराग पासवान ने भी पार्टी का घोषणा पत्र जारी किया है.

चिराग पासवान ने आगामी चुनाव के लिए घोषणा पत्र जारी करते हुए एक बार फिर सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा है.

चिराग पासवान ने कहा, ' मौजूदा मुख्यमंत्री को देखकर मुझे आश्चर्य होता है कि आप किस तरह से जातीयता को बढ़ावा देते हैं. जो व्यक्ति खुद सांप्रदायिकता को बढ़ावा देता हो, उसके नेतृत्व में बिहार के विकास की कल्पना करना उचित नहीं है'.

चिराग ने ये भी कहा, आज, बिहार विधानसभा चुनाव के लिए हमारी पार्टी के घोषणापत्र को जारी करने के साथ, मैंने 'बिहार 1 बिहारी 1' के अपने दृष्टिकोण को सामने रखा, जो विभिन्न समस्याओं का समाधान करेगा जो बिहार के लोग सामना कर रहे हैं.

एलजेपी प्रमुख ने कहा, अगर गलती से मौजूदा मुख्यमंत्री पुन: इस चुनाव में जीत जाते हैं तो हमारा प्रदेश हार जाएगा। हमारा प्रदेश पुन: बर्बादी की कगार पर जाकर खड़ा हो जाएगा.