हेटस्पीच को लेकर Facebook द्वारा प्रतिबंधित किये जाने के बाद तेलंगाना के भाजपा विधायक टी राजा सिंह ने दावा किया कि एक साल से उनका फेसबुक पर कोई खाता नहीं है और लगता है कि यह सोशल मीडिया कंपनी कांग्रेस के दबाव में काम कर रही है.

राजा सिंह ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर भी सोशल मीडिया मंचों के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के खिलाफ झूठे बयान देने का आरोप लगाया.

तेलंगाना से भाजपा के इकलौते विधायक सिंह ने दावा किया कि अप्रैल 2019 से उनका कोई फेसबुक एकाउंट नहीं है और फेसबुक ने हाल ही में जिन पेज को प्रतिबंधित किया है, हो सकता है उन्हें उनके फॉलोवरों ने बनाया हो.

हेटस्पीच को लेकर अपनी नीति के लिए पिछले कुछ दिनों से आलोचनाओं से घिरी फेसबुक ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसने राजा सिंह को हिंसा तथा नफरत को बढ़ावा देने वाली सामग्री के संबंध में उसकी नीति का उल्लंघन करने के मामले में उन्हें फेसबुक और इंस्टाग्राम पर प्रतिबंधित कर दिया है.

इस पर सिंह ने पूछा है कि क्या फेसबुक कांग्रेस पार्टी के दबाव में काम कर रही हैं.

उन्होंने बताया कि उन्होंने हैदराबाद पुलिस के साइबर अपराध विभाग को आठ अक्टूबर, 2018 को पत्र लिखा था कि उनका आधिकारिक फेसबुक पेज हैक हो गया है.

उन्होंने एक नया पेज शुरू किया जिसे अप्रैल 2019 में हटा दिया गया.

सिंह ने एक संक्षिप्त बयान में कहा, ‘‘इसलिए अप्रैल 2019 से मैं फेसबुक पर ही नहीं हूं, इसलिए मुझे प्रतिबंधित करने का कोई सवाल ही नहीं है. क्या फेसबुक कांग्रेस के दबाव में काम कर रही है.’’

एक अलग वीडियो संदेश में भाजपा विधायक ने कहा कि राहुल गांधी जैसे नेता सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर भाजपा तथा मोदी के खिलाफ ‘झूठे’ बयान देते हैं. उन्होंने मांग की कि पूरी पड़ताल के बाद फेसबुक से कांग्रेस और एआईएमआईएम पार्टियों के खाते हटा दिये जाने चाहिए.

सिंह ने बताया कि उन्होंने फेसबुक को पत्र लिखकर उनका खाता खोलने को कहा है. उन्होंने कहा कि इसमें सभी नियमों का पालन किया जाएगा.