कोलकाता, 19 अप्रैल (भाषा) भाजपा ने सोमवार को निर्वाचन आयोग से शिकायत की कि तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने एक बयान दिया है, जो पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए तैनात केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) में ''विद्रोह'' पैदा करने के प्रयास के समान है।

भगवा दल ने एक समाचार पत्र में प्रकाशित बनर्जी की टिप्पणी को लेकर उनपर आरोप लगाते हुए निर्वाचन आयोग से उनके खिलाफ कार्रवाई करने की अपील की।

भाजपा ने दावा किया कि मुख्यमंत्री ने नदिया जिले में एक जनसभा में सीएपीएफ कर्मियों से ''भाजपा के आदेश पर गोलियां नहीं चलाने'' की अपील की और कहा कि ''वे आज हैं कल नहीं होंगे।''

भाजपा ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी को दी गई शिकायत में आरोप लगाया कि उनका बयान निर्वाचन आयोग की शक्तियों पर आक्षेप लगाने वाला है।

भाजपा ने कहा, ''चुनाव ड्यूटी के दौरान सीएपीएफ कर्मी आयोग की निगरानी में काम करते हैं और उनके आला अधिकारी जमीन पर काम करते हैं।''

चुनाव लड़ रही किसी भी पार्टी के पास बलों की तैनाती का कोई अधिकार नहीं है।

बनर्जी के कथित बयान को लेकर भाजपा की शिकायत में कहा गया है, ''यह दबी जुबान में विद्रोह भड़काने के समान है।''

भाषा

जोहेब नेत्रपाल

नेत्रपाल