मध्य प्रदेश में उपचुनाव से पहले बीजेपी ने कार्रवाई की है. पूर्व विधायक सत्यपाल सिंह को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष और सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने सुमावली के पूर्व विधायक सत्यपाल सिंह को अनुशासनहीनता के कारण पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया है.

बीजेपी के प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर ने बताया कि कांग्रेस ने ग्वालियर पूर्व विधानसभा क्षेत्र से भाजपा छोड़कर कांग्रेस में आए सतीश सिंह सिकरवार को टिकट दिया है. जबकि उनके पिता गजराज सिंह व भाई सत्यपाल सिंह सिकरवार भाजपा से जुड़े हैं.

भाजपा ने गजराज सिंह और पूर्व विधायक सत्यपाल सिंह को बड़ा मलहरा में चुनाव प्रचार की जिम्मेदारी सौंपी थी. दोनों को बड़ा मलहरा जाने के निर्देश भी दिए गए थे, लेकिन सत्यपाल सिंह उर्फ नीटू ने आदेश का पालन नहीं किया. इसके चलते भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा ने रविवार को पूर्व विधायक सत्यपाल सिंह सिकरवार को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित करने के आदेश जारी कर दिए हैं.

वहीं, सत्यपाल सिंह को निष्कासित किए जाने के बाद उनके समर्थकों ने इसका विरोध किया है और प्रदर्शन भी किया है.