कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. दिल्ली दौरा खत्म होने के बाद अमरिंदर सिंह वापस चंडीगढ़ लौट गए. उनके इस दौरे ने साफ कर दिया है कि अब वह कांग्रेस पार्टी छोड़ देंगे. हालांकि, उन्होंने ये बात कही है कि वह बेजीपी में शामिल नहीं होंगे. इसके बाद चर्चाओं का बाजार गरम है कि वह अलग पार्टी बना सकते हैं.

चंडीगढ़ पहुंचे अमरिंदर सिंह ने सिद्धू पर निशाना साधते हुए कहा, 'आगामी विधानसभा चुनाव में वो जहां से भी लड़ेगा वहां से मैं उसे जीतने नहीं दूंगा. सिद्धू पंजाब के लिए सही नहीं है.'

यह भी पढ़ेंः हाथ जोड़कर बोले अमरिंदर सिंह- मैं 'कैप्टन' नहीं 'गोलकीपर' हूं

उन्होंने कहा कि मेरे साढ़े 9 साल की कार्यकाल में कई अध्यक्ष रहे हैं लेकिन यह हाल जो सिद्धू ने बनाया है वो कभी नहीं रहा. बता दें कि चरणजीत सिंह चन्नी सरकार के फैसले से नाराज होकर नवजोत सिद्धू ने 28 सितंबर को पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था.

अमरिंदर सिंह ने गुरुवार को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल से हुई मुलाकात को लेकर कहा कि कई मुद्दे हैं जिनपर डोभाल से बात हुई. ड्रोन को लेकर बात हुई जो हर दिन पाकिस्तान की तरफ से आ रहे हैं. कैप्टन ने बुधवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी. इसके बाद उनके बीजेपी में शामिल होने को लेकर अटकलें लगाई जा रही थी. इस बीच उन्होंने कहा कि मैं बीजेपी में शामिल नहीं हो रहा हूं.

यह भी पढ़ेंः अमित शाह के बाद NSA अजीत डोभाल से मिले अमरिंदर सिंह, सिद्धू को PAK का दोस्त बताया था