पंजाब कांग्रेस में पहले से ही घमासान मचा है. नवजोत सिंह सिद्धू ने पहले ही पार्टी को झटका दिया है. वहीं, अब अमरिंदर सिंह भी शायद बड़ा झटका देने की तैयारी में है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मंगलवार को कहा था कि वह दिल्ली में किसी नेता से नहीं मुलाकात करेंगे. लेकिन बुधवार शाम को वह केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात करने के लिए उनके घर पहुंच गए हैं. अब इस मुलाकात को काफी अहम माना जा रहा है और सियासी गलियारों में कैप्टन के बीजेपी में शामिल होने की अटकलें तेज हो गई है.

यह भी पढ़ेंः 'कैप्टन' से नवजोत सिद्धू की नहीं बनती, 1996 में भी भिड़ गए थे, जानें तब क्या हुआ था

यह भी पढ़ेंः सिद्धू पर भड़के मनीष तिवारी, बोले- पंजाब में अस्थिरता से सिर्फ PAK खुश होगा

बता दें कि अमरिंदर सिंह कल यानी मंगलवार को दिल्ली पहुंचे थे. उनसे जब ये सवाल किया गया कि क्या वे किसी नेता से यहां मिलेंगे तो उन्होंने साफ तौर पर इनकार कर दिया था. उन्होंने राजनीतिक मुलाकातों की अटकलों को खारिज करते हुए कहा था, “मैं किसी भी नेता से मुलाकात नहीं करुंगा. यहां से मैं घर (कपूरथला हाउस) जाऊंगा. समान इकट्ठा करूंगा और पंजाब वापस चला जाऊंगा.”

वहीं, कैप्टन से पहले अमरिंदर सिंह के मीडिया एडवाइजर की ओर से भी ट्वीट कर यह जानकारी दी गई थी कि वो एक निजी दौरे पर हैं, इस दौरान वे अपने कुछ दोस्तों से मिलेंगे और कपूरथला हाउस को खाली करेंगे. इस यात्रा पर किसी तरह का कयास नहीं लगाया जाना चाहिए.

यह भी पढ़ेंः इस्तीफे के बाद नवजोत सिद्धू का पहला वीडियो, बोले- दागियों के खिलाफ लड़ाई लड़ता रहूंगा

लेकिन जिस तरह से पंजाब कांग्रेस के अंदर खाने उथल-पुथल मची है. ऐसे में कैप्टन अमरिंदर सिंह का अमित शाह से मुलाकात करना कुछ और ही इशारा कर रही है.

दिल्ली आने से पहले पंजाब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से नवजोत सिंह सिद्धू ने अचानक इस्तीफा दे दिया था. सिद्धू के इस्तीफे पर पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमिरंदर सिंह ने ट्वीट कर कहा था, 'मैंने कहा था कि वो स्थिर आदमी नहीं हैं. पंजाब जैसे सीमावर्ती राज्य के लिए सिद्धू फिट नहीं हैं.'

यह भी पढ़ेंः कांग्रेस में शामिल हुए कन्हैया कुमार और जिग्नेश मेवाणी, पार्टी के अंदर ही पूछे जा रहे सवाल