बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की जांच करने गुरुवार शाम को मुंबई पहुंची सीबीआई की टीम को होम क्वॉरंटीन के नियम से छूट दी गई है और यहां तक की बृह्न मुंबई महानगर पालिका (BMC) ने भी इसकी घोषणा की.

उल्लेखनीय है कि इस महीने के शुरुआत में सुशांत सिंह मौत मामले की ही जांच करने आए बिहार के आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को बीएमसी ने क्वॉरंटीन में भेज दिया था.

BMC के अधिकारी ने बताया कि केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) ने गृह पृथकवास के नियम से छूट देने का आवेदन किया था. उन्होंने कहा, ‘‘वे आधिकारिक ड्यूटी पर हैं और उन्होंने पृथकवास के नियमों से छूट देने की मांग की थी. उन्हें गृह पृथकवास के नियम से छूट दी गई है.’’

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि जांच दल के अगले 10 दिनों तक मुंबई में रहने की उम्मीद है.

महाराष्ट्र सरकार के नियमों के मुताबिक महत्वपूर्ण ड्यूटी पर आने वाले सरकारी अधिकारियों और कोविड-19 ड्यूटी पर आने वाले डॉक्टरों को सात दिन के होम क्वॉरंटीन के नियम से छूट दी जाती है, लेकिन एक हफ्ते से अधिक समय तक रहने की योजना होने पर बीएमसी से नियम में छूट के लिए आवेदन करना होता है.

अधिकारियों ने बताया कि CBI की टीम को लेकर आ रहा विमान शाम साढे़ सात बजे मुंबई हवाई अड्डे पर उतरा और टीम में फॉरेंसिक विशेषज्ञ भी हैं. उन्होंने बताया कि टीम सुशांत के अपार्टमेंट भी जाएगी जहां पर वह मृत पाए गए थे.

उन्होंने बताया कि मुंबई पुलिस मामले में एकत्र सबूत को सीबीआई को सौंपेगी और जांच में सहयोग करेगी.

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने पटना में अभिनेतत्री रिया चक्रवर्ती और अन्य के खिलाफ सुशांत को आत्महत्या के लिए उकसाने के लिए दर्ज प्राथमिकी में जांच बुधवार को सीबीआई को सौंप दी थी. सुशांत 14 जून को मुंबई के उपनगर बांद्रा स्थित अपने अपार्टमेंट में मृत पाए गए थे.