केंद्र सरकार ने दिल्ली सरकार की 'घर-घर राशन' (Doorstep Delivery of Ration) योजना पर रोक लगा दी है. इस योजना के तहत दिल्ली वालों को घर तक राशन सरकार पहुंचाने वाली थी. लेकिन इस योजना को केंद्र की तरफ से मंजूरी नहीं मिली है.

इससे पहले भी केंद्र सरकार ने इस पर रोक लगा दी थी जब 25 मार्च को ये योजना लागू होने वाली थी. वहीं, दिल्ली सरकार ने इस योजना में बदलाव कर केंद्र को प्रस्ताव भेजा लेकिन दोबारा इसे मंजूरी नहीं दी गई.

यह भी पढ़ेंः भारतीय रेल फिर से बहाल कर रही है कई स्पेशल ट्रेन, यहां देखें लिस्ट

यह भी पढ़ेंः मात्र 5 रुपये के नोट को बेचकर आप कमा सकते हैं 30 हजार रुपये, जानें कैसे

दिल्ली मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से कहा गया कि, दिल्ली सरकार 1-2 दिनों के भीतर पूरे दिल्ली में 'घर-घर राशन' योजना शुरू करने के लिए पूरी तरह तैयार थी. लेकिन एलजी ने दो कारणों का हवाला देते हुए योजना के कार्यान्वयन के लिए फाइल को खारिज कर दिया है . इसमें कहा गया है कि, केंद्र ने अभी तक इस योजना को मंजूरी नहीं दी है, और इस योजना पर कोर्ट में मामला चल रहा है.

यह भी पढ़ेंः दिल्ली में लॉकडाउन बढ़ने के साथ मिली छूट, मेट्रो-बाजार, ऑफिस समेत जानें क्या खुला

गौरतलब है कि, केंद्र सरकार ने पहले इस योजना के नाम पर आपत्ति जताई थी. इसके बाद इस योजना का नाम घर-घर योजना रखा गया. सीएम केजरीवाल का कहना था कि हमें नाम से कोई लेना देना नहीं है. बस लोगों के घरों तक राशन पहुंचना चाहिए. लेकिन बदलने हुए नाम के बाद भी केंद्र ने इसे मंजूरी नहीं दी.

यह भी पढ़ेंः Twitter को केंद्र सरकार की आखिरी चेतावनी, नियम मानें या भुगतने के लिए तैयार रहें

यह भी पढ़ें- RBI ने किया NACH में बदलाव, बैंक में छुट्टी होने पर भी आएगी सैलरी