राजधानी दिल्ली में ट्रैफिक, जनसंख्या और सड़कों की चौड़ाई को देखते हुए सड़कों पर अधिकतम स्पीड लिमिट को रिव्यू किया जाता है. अब इसमें एक बार फिर बदलाव किया गया है. इसके तहत अलग-अलग सड़कों पर वाहनों की स्पीड लिमिट तय की गई है.

यह भी पढ़ेंः ढाबा वाले बाबा को मिले थे दान में 45 लाख, बताया- कहां खर्च हो गए

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने स्पीड लिमिट को लेकर जानकारी दी है. इसमें बताया गया है कि, रिंग रोड पर पंजाबी बाग से धौला कुआं, आगे धौला कुआं से एम्स, फिर आश्रम, सरायं काले खां से आईटीओ, राजघाट और फिर राजघाट से चन्दगी राम अखाड़ा और उसके आगे आज़ाद पुर फ्लाईओवर पर स्पीड लिमिट कार और बाइक के लिए 60 किलोमीटर प्रति घंटा रहेगी. मतलब रिंग रोड पर स्पीड लिमिट 60 तय की गई है.

यह भी पढ़ेंः जानें, एक चाय वाले ने पीएम नरेंद्र मोदी को क्यों किया 100 रुपये का मनी ऑर्डर

हालांकि, चंदगी राम अखाड़ा से कोई सिविल लाइन मॉडल टाउन की तरफ मुड़कर आजादपुर तक जाता है तो इस स्ट्रेच पर स्पीड लिमिट 50 किलोमीटर प्रति घंटा है.

यह भी पढ़ेंः दुनिया में एक ऐसा देश जहां 2020 में नहीं दर्ज हुआ रेप का एक भी मामला

आज़ाद पुर फ्लाईओवर से आगे वापस पंजाबी बाग तक रिंग रोड पर स्पीड लिमिट 60 किलोमीटर प्रति घंटा ही रहेगी. पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, बाहरी रिंग रोड पर भी ट्रैफिक की मैक्सिमम स्पीड लिमिट 60 किलोमीटर प्रति घंटा ही रहेगी.

सभी बस, ट्रक और तिपहिया वाहनों के लिए दिल्ली की सड़कों पर स्पीड लिमिट 40 किलोमीटर प्रति घंटा ही रहेगी. इतना ही नहीं, दिल्ली पुलिस के मुताबिक अधिकतर सड़कों पर कार के लिए अधिकतम स्पीड 60-70 किलोमीटर प्रति घंटा और दुपहिया वाहनों के लिए 50 से 60 किलोमीटर प्रति घंटा तय की गयी है. साथ ही सभी आवासीय इलाको के अंदर की सड़क पर किसी भी ट्रैफिक की रफ्तार 30 किलोमीटर प्रति घंटा से ज्यादा नहीं होगी.

यह भी पढ़ेंः TMC में वापसी कर मुकुल राय ने कहा- बंगाल की जो स्थिति उसमें BJP में कोई नहीं रहेगा