जेईई मेन 2021 (JEE Main 2021) के चौथे चरण की परीक्षा की तारीखों में बदलाव किया गया है. इसके तहत तीसरे और चौथे चरण की परीक्षा के बीच चार सप्ताह का गैप दिया गया है. केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने अभियर्थियों की मांग के बाद इस पर विचार करते हुए घोषणा की है. इसके तहत जेईई मेन के चौथे चरण की परीक्षा 26, 27 और 31 अगस्त, एक व दो सितंबर को होगी.

यह भी पढ़ेंः बच्चों की ट्यूशन फीस से कैसे बचाएं Income Tax, जानें हर सवाल का जवाब

शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने ट्वीट कर कहा, जेईई (मुख्य) सत्र 4 के लिए पंजीकरण अभी भी जारी है और पंजीकरण की तारीखों को 20 जुलाई, 2021 तक आगे बढ़ाया जाएगा.

उन्होंने आगे कहा, जेईई (मुख्य) 2021 सत्र 4 अब 26, 27 और 31 अगस्त और 1 और 2 सितंबर, 2021 को आयोजित किया जाएगा. कुल 7.32 लाख उम्मीदवारों ने पहले ही जेईई (मुख्य) 2021 सत्र 4 के लिए पंजीकरण कराया है.

यह भी पढ़ेंः महाराष्ट्र बोर्ड 10वीं का रिजल्ट आज नहीं आएगा, जानें शिक्षा मंत्री ने क्या कहा

बता दें, जेईई मेन 2021 के चौथा और आखिरी की परीक्षा पहले 27 जुलाई से 2 अगस्त तक आयोजित की जानी थी. जेईई मेन के तीसरे चरण की परीक्षा 20 से 25 जुलाई और चौथे चरण की 27 जुलाई से दो अगस्त के बीच होनी थी. दोनों के बीच सिर्फ एक दिन का ही गैप रखा गया है. इसी बात को लेकर कई अभ्यर्थी नाराज थे.

यह भी पढ़ेंः सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से पूछा- क्या आजादी के 75 साल बाद भी राजद्रोह कानून जरूरी है?

जेईई मेन 2021 परीक्षा के जरिए देश के 23 आईआईटी, 31 एनआईटी, 23 ट्रिपल आईटी सहित जीएफआईटी की 36000 सीटों पर इंजीनियरिंग के लिए एडमिशन होंगे. जेईई मेन के सभी चरणों की परीक्षाएं संपन्न होने के बाद चारो चरणों के बेस्ट स्कोर के आधार पर अभ्यर्थियों की रैंक जारी की जाएगी.

यह भी पढ़ेंः DA बढ़ने के बाद केंद्रीय कर्मचारी समझें सैलरी का गणित, कितनी मिलेगी रकम