छत्तीसगढ़ से एक बड़ी खबर सामने आई है. यहां प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने उन्हें रायपुर की एक अदालत में पेश किया, जिसके बाद उन्हें 15 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है. इस बात की जानकारी नंद कुमार बघेल के वकील गजेंद्र सोनकर ने दी है. बता दें, नंद कुमार बघेल पर ब्राह्मण समाज के खिलाफ विवादित बयान देने का आरोप है.

वकील गजेंद्र सोनकर ने बताया है कि, नंद कुमार बघेल को न्यायिक रिमांड पर केंद्रीय कारागार में रखा गया है. 21 सितंबर की आगामी तारीख़ दी गई है.

यह भी पढ़ेंः प्रबुद्ध सम्मलेन में मायावती ने मोहन भागवत पर बोला हमला, ब्राह्मण समाज के लिए बहुत बातें कहीं

दरअसल, सर्व ब्राह्मण समाज की शिकायत पर रायपुर की डीडी नगर थाने की पुलिस ने शनिवार देर रात 75 वर्षीय नंद कुमार बघेल के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी. पुलिस के मुताबिक, शिकायत में आरोप लगाया गया है कि सीएम के पिता ने ब्राह्मणों को विदेशी बताकर लोगों से उनका बहिष्कार करने की अपील की है. उन्होंने कथित तौर पर ब्राह्मणों को गांव में घुसने नहीं देने का लोगों से आह्वान किया.

बताया जा रहा है कि, संगठन ने अपनी शिकायत में कहा कि मुख्यमंत्री के पिता की कथित टिप्पणी का वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है.

बता दें, नंद कुमार बघेल के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा- 153ए (विभिन्न समूहों के बीच धर्म, जाति, जन्मस्थान, निवास और भाषा के आधार पर वैमनस्य पैदा करना) और धारा-505(1)(बी) - के तहत मामला दर्ज किया गया है.

यह भी पढ़ें: तालिबान-RSS वाले बयान पर BJP-शिवसेना के निशाने पर आए जावेद अख्तर, घर के बाहर सुरक्षा बढ़ाई गई

वहीं, इस मामले में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि, एक मुख्यमंत्री होने के नाते मेरी ये जिम्मेदारी है कि अलग-अलग समुदायों के बीच सद्भाव बनाए रखा जाए. उन्होंने कहा, अगर उन्होंने समाज के खिलाफ कोई बात कही है तो मुझे इसका दुख है. उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

यह भी पढ़ें: पैरालंपिक मेडलिस्ट और डीएम सुहास यतिराज की पत्नी रह चुकी हैं मिसेज इंडिया, किए हैं बड़े-बड़े कारनामे