देहरादून, 23 मई (भाषा) उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने रविवार को कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए ग्राम स्तर पर गठित निगरानी समिति को और बेहतर ढंग से कार्य करने तथा अधिक से अधिक लोगों की जांच कराने की जरूरत पर बल दिया ।

कोविड-19 संबंधी व्यवस्थाओं का जायजा लेने के लिए एक दिवसीय दौरे पर बागेश्वर पहुंचे मुख्यमंत्री ने एक समीक्षा बैठक के दौरान अधिकारियों से कहा कि किसी व्यक्ति में महामारी के लक्षण आने पर उसे तत्काल स्वास्थ्य परीक्षण हेतु प्रेरित किया जाए तथा अधिक से अधिक लोगों की जांच करायी जाए ।

उन्होंने कहा कि सरकार की प्राथमिकता सभी को संकट की इस घड़ी में बेहतर से बेहतर स्वास्थ सुविधा उपलब्ध कराना है जिसके लिए प्रदेश के सभी चिकित्सालयों में आईसीयू एवं वेंटीलेटर बिस्तर के साथ ही ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र भी बढ़ाए गए हैं ।

रावत ने कहा कि इसके अलावा प्रखंड स्तर पर संचालित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भी आवश्यक व्यवस्थायें की जा रही हैं ।

मुख्यमंत्री ने आईवरमेक्टिन दवा को प्राथमिकता के साथ सभी लोगों को उपलब्ध कराने तथा टीकाकरण के विषय में व्यापक प्रचार- प्रसार पर भी जोर दिया।

बैठक में अल्मोड़ा के सांसद अजय टम्टा, प्रदेश के पेयजल मंत्री और कोविड प्रभारी बिशन सिंह चुफाल, बागेश्वर के विधायक चंदन रामदास और कपकोट के विधायक बलवंत सिंह भौर्याल भी मौजूद रहे ।

इससे पहले, मुख्यमंत्री ने कोविड चिकित्सालय एवं कोविड केयर सेंटर में की गयी व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया ।