नोएडा, 22 मई (भाषा) सेक्टर 122 में चल रहे सेक्स रैकेट के भंडाफोड़ के दौरान पकड़े गए वाणिज्य कर अधिकारी को निलंबित करने के बाद उनके खिलाफ विभागीय जांच शुरू हो गई है।

थाना फेस- 3 क्षेत्र के सेक्टर 122 में चल रहे सेक्स रैकेट का 18 मई को पुलिस ने खुलासा किया था। पुलिस ने मौके से अरुण, नरेंद्र लाल, पुनीत तथा संचालिका शीला देवी सहित छह लोगों को गिरफ्तार किया था।

गिरफ्तार आरोपियों में नरेंद्र लाल जनपद हापुड़ में बाणिज्य कर अधिकारी के रूप में तैनात है। वह सेक्टर 122 स्थित मकान में चल रहे देह व्यापार के अड्डे पर कई बार आते-जाते थे। नरेंद्र लाल की गिरफ्तारी के समय व्यापार कर के अधिकारियों ने पुलिस पर उन्हें छोड़ने के लिए काफी दबाव बनाया, लेकिन पुलिस ने उन्हें नहीं छोड़ा। नरेंद्र लाल मौजूदा समय में लुक्सर जेल में बंद है।

लाल को वाणिज्य कर विभाग ने निलंबित कर दिया है तथा उनके खिलाफ विभागीय जांच शुरू की गई है। जांच के दौरान पता चला है कि नरेंद्र सेक्स रैकेट संचालिका के संपर्क में थे, तथा उनका वहां पर अक्सर आना-जाना था।

पुलिस उपायुक्त (जोन तृतीय) हरीश चंदर ने ने बताया कि सोमवार रात को सेक्स रैकेट का खुलासा किया गया था जिसमें तीन महिलाओं तथा तीन ग्राहकों को पकड़ा गया था। सभी आरोपी फिलहाल लुक्सर जेल में बंद हैं।