असम विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस ने अपना घोषणापत्र (Manifesto) जारी कर दिया है. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने असम के गुवाहाटी में पार्टी कार्यालय में घोषणापत्र जारी किया. वहीं, घोषणापत्र जारी करते हुए राहुल गांधी ने कहा ये असम की जनता की रक्षा करेगा.

यह भी पढ़ेंः कौन हैं दत्तात्रेय होसबोले? चुने गए RSS के 'सरकार्यवाह'

राहुल गाधी ने कहा, 'हमने आपको 5 गारंटी का हथियार दिया है. ये घोषणापत्र असम की जनता की आवाज़ है, ये असम की जनता की रक्षा करेगा.'

यह भी पढ़ेंः नागपुर में नहीं थम रहा कोरोना वायरस का संक्रमण, बढ़ाया गया 31 मार्च तक लॉकडाउन

उन्होंने कहा, हम जानते हैं कि RSS और BJP देश की विविधता भरी संस्कृति पर हमला कर रही है. वह हमारी भाषा, इतिहास, हमारे सोचने के तरीके पर और हमारे रहने के तरीके पर हमला कर रही है. ये घोषणापत्र इस बात की गारंटी है कि हम असम के विचार को संरक्षित करने के लिए लड़ेंगे.

यह भी पढ़ेंः Post Office में है IPPB सेविंग अकाउंट तो अब लगेगा ये नया चार्ज, जान लें

इससे पहले शनिवार को राहुल गांधी ने डिगबोई में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, सरकार सभी फार्म को प्राइवेट करना चाहती है लेकिन इसकी जरूरत क्या है?

यह भी पढ़ेंः Instagram पर अब होगा बच्चों का भी कब्जा, इन तरीकों से कर सकते हैं इस्तेमाल

उन्होंने कहा, 'निजीकरण की अपनी जगह है लेकिन जहां पर पब्लिक सेक्टर इफेक्टिव काम कर रहा है, समाज के लिए रोल प्ले का काम कर रहा है उसे निजीकरण करने की क्या जरूरत है. आप कॉम्पिटिशन लाना चाहते हैं तो लाई लेकिन जो मजबूत पब्लिक सेक्टर कंपनी है उसे क्यों डिस्टर्ब कर रहे.' इसके अलावा राहुल गांधी ने कहा, 'इसका एक ही लक्ष्य है कि जो फायदा पब्लिक सेक्टर जनता को दे रही वो ये अपने लोग 2-3 लोगों को देना चाहते है.'

यह भी पढ़ेंः LPG सिलेंडर लेने जा रहे हैं तो पहले कर ले ये काम, मिलेगा 300 रुपये का सब्सिडी