मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सभी के सहयोग और परिश्रम से कोरोना संक्रमण अब काफ़ी कुछ नियंत्रण में आ रहा है। संक्रमण पर इस नियंत्रण को कायम रखने के लिए हमें अधिकतम प्रयास करने होंगे। कोरोना संक्रमण शीघ्र समाप्त होने वाला नहीं है। संक्रमण की दर लगातार कम हो रही है परंतु हमें कोविड एप्रोप्रियेट बिहेवियर अपनाते हुए इसके साथ ही ज़िंदगी शुरू करना है। इस पर रणनीति बनाते हुए लगातार कार्य करें और जागरूकता लायें। मुख्यमंत्री सोमवार को सागर में संभाग संभाग की कोविड-19 नियंत्रण की समीक्षा कर रहे थे।

 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिये कि सागर संभाग के लिये विस्तृत कार्य-योजना बनाएँ, जिस पर कार्य करते हुए 31 मई तक कोरोना संक्रमण पर क़ाबू पाया जा सकें और 1 जून से धीरे-धीरे अनलॉक की प्रक्रिया शुरू की जाए।

 

सागर की 312 कोरोना मुक्त ग्राम पंचायतों की सराहना

 

सागर की 312 ग्राम पंचायतें कोरोना मुक्त हैं और यहाँ 15 दिवस से भी अधिक से कोरोना का एक भी पॉज़िटिव प्रकरण सामने नहीं आया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इन ग्राम पंचायतों की सराहना की। उन्होंने कहा कि अन्य ग्राम पंचायतों और वार्डों को भी कोरोना मुक्त बनाएँ।

 

एक जून से वैक्सीनेशन के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा

 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सागर संभाग सहित प्रदेश के सभी संभागों में 1 जून 2021 से वैक्सीनेशन का वृहद अभियान चलाया जाए। अभियान में अधिक से अधिक व्यक्तियों का टीकाकरण किया जाए। उन्होंने कहा कि, संक्रमण के नियंत्रण में वैक्सीनेशन की प्रभावी भूमिका है।

 

समस्त जन-प्रतिनिधि सूचना के माध्यमों, समाचार-पत्रों, ऑडियो ब्रिज, व्हाट्सएप मैसेज से पंचायत स्तर तक कोरोना कर्फ्यू का कड़ाई से पालन करने का आह्वान जनता से करें। कोविड-19 को समाप्त करने के लिए एक सप्ताह तक कोरोना कर्फ्यू में सख्ती बरती जाए।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि सागर मेडिकल कॉलेज की व्यवस्थाएँ और सुदृढ़ की जाये। मुख्यमंत्री ने बुंदेलखंड में जनता को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएँ मुहैया कराने की दृष्टि से मेडिकल कॉलेज के लिए रणनीति तैयार करने को कहा। बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज को अन्य बेहतरीन अस्पतालों की तर्ज़ पर अपडेट किया जाए। मुख्यमंत्री ने कॉलेज में 50 बेड की क्षमता वाला वार्ड अलग से तैयार किये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कॉलेज के चिकित्सालय को इस तरह से तैयार किया जाए कि मरीज पहले बीएमसी आने की सोचे और बाद में किसी निजी अस्पताल के बारे में।

 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि, मरीज़ों को बेहतर से बेहतर इलाज उपलब्ध कराया जाए। इसके लिए दवाओं और आवश्यक वस्तुओं की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। दवाओं, इंजेक्शन और ऑक्सीजन आदि की लगातार आपूर्ति सुनिश्चित की जा रही है।

 

कोरोना की तीसरी लहर के लिए भी पूरी तरह से तैयार रहे

 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना की संभावित तीसरी लहर के लिए पूरी तरह से तैयार रहते हुए बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल तथा बीना के अस्थाई अस्पताल में पहले से समस्त प्रकार की व्यवस्थाएँ सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

 

एक सप्ताह की पूर्ण सख़्ती कर कोरोना को समाप्त करें

 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि, कोरोना पर क़ाबू पाने के लिए एक सप्ताह तक पूरी सख़्ती से जनता कर्फ़्यू का पालन कराया जाए। उन्होंने कहा कि, ज़िले, विकासखंड, वार्ड, ग्राम आदि सभी स्तर के क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप को और सशक्त बनाएँ। क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक आयोजित की जाए। साथ ही वैक्सीनेशन तथा सेंपलिंग प्रतिशत भी बढ़ाएँ। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के उपचार के साथ योग और प्राणायाम का भी नियमित रूप से प्रशिक्षण दें। योग से व्यक्ति निरोगी और आत्म-निर्भर बनता है।

 

पन्ना जिले में अच्छा काम

 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सागर संभाग के पन्ना ज़िले में अच्छा काम किया जा रहा है। यह सभी की सजगता से ही संभव हो पाया। परंतु, अभी और सख़्ती की ज़रूरत है जिससे किसी भी परिस्थिति में अब संक्रमण और न फैले। छतरपुर ज़िले की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि यहाँ वैक्सीनेशन तथा टेस्टिंग बढ़ाने की आवश्यकता है। निवाड़ी में भी संक्रमण रोकने के लिए अच्छा कार्य किया गया है। उन्होंने कहा कि यहाँ ग्रामीण इलाकों में नियंत्रण बेहतर है, इसे शहरी क्षेत्रों में भी अपनाएँ।

 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि ब्लेक फंगस के उपचार के 12 हजार टेबलेट आ रही हैं। इस बीमारी के इलाज के लिए राज्य शासन हर स्तर पर प्रयास कर रहा है। किसी भी मरीज़ को कोई दिक़्क़त नहीं आयेगी।

 

समीक्षा बैठक में केंद्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री प्रहलाद पटेल, प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव, नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ठाकुर, राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत, खनिज साधन और श्रम मंत्री श्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह, जिला अध्यक्ष श्री गौरव सिरोठिया, विधायक सर्वश्री शैलेंद्र जैन, श्री प्रदीप लारिया, श्री महेश राय सहित सभी जन-प्रतिनिधि और अधिकारी मौजूद थे।

 

#Jansamparkmp  #MadhyaPradesh  #COVID19vaccines