कोरोना वायरस संक्रमण को को लेकर पंजाब सरकार की चिंता बढ़ रही है. पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा है कि कोरोना वायरस के 401 नमूने ‘जीनोम सीक्वेसिंग’ के लिए भेजे गये थे, जिनमें से 81 प्रतिशत में ब्रिटेन में सामने आए इसके स्वरूप की पुष्टि हुई है.

यह भी पढ़ेंः दिल्ली में सार्वजनिक रूप से होली, शब ए बारात और नवरात्रि मनाने पर रोक

पीटीआई के अनुसार, एक आधिकारिक बयान के मुताबिक मुख्यमंत्री ने कोविड-19 महामारी की स्थिति पर चिंता प्रकट करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से टीकाकरण का दायरा बढ़ाते हुए 60 साल से कम उम्र के लोगों को भी टीका लगाने का अनुरोध किया है.

सिंह ने लोगों से टीका लगवाने की भी अपील की और इस बात पर जोर दिया कि केंद्र सरकार को आबादी के बड़े हिस्से के लिए टीकाकरण का दायरा फौरन बढ़ाने की जरूरत है.

यह भी पढ़ें: भारत सरकार का ऐलान- 1 अप्रैल से 45 साल के ऊपर सभी लोग लगवा सकेंगे कोरोना वैक्सीन

उन्होंने कहा, ‘‘प्रक्रिया को तेज करने की जरूरत है. ’’

उन्होंने इस बात का जिक्र किया कि कोविशील्ड टीका कोविड-19 के ब्रिटेन में सामने आए स्वरूप पर भी समान रूप से कारगर है.

यह भी पढ़ेंः सस्ते LPG कनेक्शन के लिए सरकार कर रही है ये प्लान!

सिंह ने कहा कि संक्रमण की श्रृंखला को तोड़ने के लिए अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण करना आवश्यक है.

यह भी पढ़ें: अगर आपने लोन लिया है तो जान लें सुप्रीम कोर्ट का ये फैसला, लाखों कर्जधारक को झटका