उत्ताराखंड के बीजेपी विधायक मुन्ना सिंह चौहान ने राज्य में आए राजनीतिक संकट को लेकर कहा कि उत्तराखंड में चुनावी वर्ष है इसलिए नेताओं का राष्ट्रीय नेताओं से मिलना सामान्य प्रक्रिया है, सभी 57 बीजेपी विधायक सीएम के साथ हैं. खबरे हैं कि बीजेपी का केंद्रीय नेतृत्व उत्तराखंड में नेतृत्व परिवर्तन पर गंभीरता से विचार कर रहा है. इसी सिलसिले में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सोमवार को दिल्ली में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित कई नेताओं से मुलाकात की थी. 

ANI ने मुन्ना सिंह के हवाले से बताया, "उत्तराखंड में चुनावी वर्ष है इसलिए नेताओं का राष्ट्रीय नेताओं से मिलना सामान्य प्रक्रिया है.मुख्यमंत्री जी दोपहर 3 बजे के आसपास खुद मीडिया से बात करेंगे और अगले कदम की जानकारी देंगे. सभी 57 बीजेपी विधायक मुख्यमंत्री के साथ हैं."

ये दो नेता हैं उत्तराखंड में नए सीएम के दावेदार 

सूत्रों के मुताबिक राज्य सरकार के मंत्री धन सिंह रावत मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के मजबूत विकल्प के रूप में उभरे हैं. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पार्टी कुमाऊं क्षेत्र से एक उपमुख्यमंत्री भी नियुक्त कर सकती है.सूत्रों का कहना है कि पुष्कर सिंह धामी को उपमुख्यमंत्री बनाया जा सकता है.

इससे पहले, भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और पार्टी मामलों के उत्तराखंड प्रभारी दुष्यंत कुमार सिंह पिछले दिनों अचानक देहरादून पहुंचे और कोर ग्रुप की बैठक की थी. इस बैठक के बाद से ही रावत को पद से हटाए जाने को लेकर अटकलें लग रही हैं.

ये भी पढ़ें: त्रिवेंद्र सिंह रावत का इस्तीफा: धन सिंह या पुष्कर सिंह धामी बन सकते हैं उत्तराखंड के नए सीएम 

ये भी पढ़ें: उत्तराखंड: त्रिवेंद्र सिंह दे सकते हैं मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा, BJP के ये नेता बन सकते हैं नये CM