सोमवार की रात चक्रवाती तूफान ताकते गुजरात तट से टकरा गया है. जिस दौरान तूफान की स्पीड 185 किमी प्रति घंटा रही. इस तूफान के कारण गुजरात के कई इलाकों में पेड़ों के गिरने से कई जगह रास्ता जाम हो गया है. मौसम विभाग के तौकते के जमीन से टकराने की प्रक्रिया करीब 2 घंटे तक चली, जबकि तौकते ने महाराष्ट्र के मुंबई में भी भारी तबाही मचाई हुई है. महुआ के पास पेड़ गिरने से ऑक्सीजन सिलेंडर वाला ट्रक भी फंस गया.

यह भी पढ़ें- कोरोना इलाज में अब नहीं होगी प्लाज़्मा थेरेपी, ICMR ने जारी किए निर्देश

ये भी पढ़ेंः कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद ये लक्षण हो सकते हैं खतरनाक, सरकार ने जारी की एडवाइजरी

चक्रवाती तूफान तौकते के गुजरात पहुंचने के बाद अब कमजोर होता नजर आ रहा है, हालांकि अभी खतरा टला नहीं है. तूफान की रफ्तार 135 किमी प्रति घंटा मापी जा रही है. तूफान के कारण गुजरात के कई जिलों में बिजील के खंभे उखड़ने के कारण बिजली की समस्या भी हो गई है और चक्रवाती तूफान तौकते के गुजरात के बाद अब राजस्थान में तबाही मचाने की आशंका जताई जा रही है.

मौसम विभाग के मुताबिक, यह पिछले 23 सालों में टकराने वाले सबसे विनाशकारी चक्रवात में से एक है. चक्रवाती तूफान तौकते ने गुजरात के कई इलाकों में तबाही मचाई है और ऊना शहर में मोबाइल टावर टूटने से लोगों के अपनों से फोन कनेक्ट नहीं हो पा रहे हैं. हालांकि गुजरात सरकार ने 1.5 लाख से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है.

यह भी पढ़ें- केदारनाथ के बाद अब खुल गए बदरीनाथ के कपाट, भक्तों को नहीं जाने की सलाह

ये भी पढ़ेंः कोविड-19 रोधी दवा 2-DG हुई लॉन्च, जानिए इसके बारे में

ये भी पढ़ेंः दिल्ली में कोरोना के ताजा मामले 5 हजार से कम, सिंगल डिजिट में पहुंचा पॉजिटिविटी रेट