कोलकाता, 26 मई (भाषा) सेना ने पश्चिम बंगाल के पूर्वी मिदनापुर जिले के विभिन्न हिस्सों से लगभग 700 लोगों को बचाया है जो चक्रवात ‘यास’ से बुरी तरह प्रभावित हुआ है।

राज्य का बड़ा तटीय क्षेत्र जलमग्न हो गया है।

इस संबंध में एक रक्षा अधिकारी ने बताया कि सेना ने दक्षिण 24 परगना और हावड़ा में भी विभिन्न जगहों से फंसे हुए लोगों को बचाया।

सेना ने पश्चिम बंगाल में राहत एवं बचाव कार्य के लिए 17 कॉलम तैनात किए हैं जिनमें उपकरणों और नौकाओं से लैस दक्ष कर्मी शामिल हैं।

भारतीय तटरक्षक बल ने भी अपने पोत और हेलीकॉप्टर तैनात किया है।

चक्रवात बुधवार सुबह पड़ोसी राज्य ओडिशा के तट से टकराया।

तटरक्षक बल ने कहा, ‘‘बंगाल की खाड़ी में तैनात किए गए तीन तटरक्षक पोत और एक हेलीकॉप्टर क्षेत्र में स्थिति के आकलन और किसी नाविक के फंसे होने की स्थिति में उसे तत्काल सहायता उपलब्ध कराने के लिए तीव्रतम गति से बंगाल और ओडिशा के तटीय क्षेत्रों की ओर मोड़ दिए गए हैं।’’

इसने एक बयान में कहा कि तटरक्षक बल का डोर्नियर विमान मौसम ठीक होने के बाद प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करेगा।