बलिया (उप्र) 23 मई (भाषा) जिले में बैरिया थाना क्षेत्र के चाईछपरा गांव में शनिवार को एक दलित लड़की ने कथित रूप से प्रेम प्रसंग को लेकर परिजनों की फटकार के बाद दुपट्टे का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।

हालांकि, बाद में किशोरी के पिता की तहरीर पर इस मामले में आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में गांव के ही एक युवक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

अपर पुलिस अधीक्षक संजय यादव ने रविवार को बताया कि चाईछपरा गांव में कल 14 वर्षीय एक किशोरी का शव उसके घर में लोहे की रॉड में दुपट्टे के फंदे से लटका मिला।

उन्होंने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

अधिकारी ने बताया कि छानबीन में आत्महत्या का तथ्य सामने आया है और प्रथम दृष्टया यह पता चला है कि प्रेम प्रसंग को लेकर परिजनों ने किशोरी को फटकार लगाई थी जिसके चलते उसने यह कदम उठाया।

यादव ने कहा कि पुलिस मामले की गहराई से जांच कर रही है।

इस बीच, इस मामले में पुलिस ने आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में एक युवक के विरुद्ध मामला दर्ज किया है।

बैरिया थाना प्रभारी राजीव मिश्र ने बताया कि किशोरी के पिता की शिकायत पर उसके गांव के ही युवक विकास मल्लाह के खिलाफ पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 306 (आत्महत्या के लिए उकसाने) व एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

उन्होंने कहा कि पिता ने आरोप लगाया है कि विकास गलत नीयत से उनकी पुत्री को बार-बार परेशान करता था, जिससे परेशान होकर उसने आत्महत्या कर ली।

भाषा सं आनन्द नेत्रपाल

नेत्रपाल