राजस्थान के कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने केंद्र सरकार से टिड्डी को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने, बकाया फसल बीमा क्लेम का भुगतान करवाने तथा केन्द्र प्रवर्तित योजनाओं की पहली किस्त शीघ्र जारी करने का आग्रह किया है.

कटारिया शुक्रवार को कृषि मंत्रालय की ओर से आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेस में केंद्रीय कृषि मंत्री से संवाद कर रहे थे.

कटारिया ने राज्य में टिड्डियों के प्रकोप, उसके नियंत्रण तथा नुकसान की जानकारी देते हुए आग्रह किया कि किसान हित में केंद्र सरकार टिड्डी की समस्या को राष्ट्रीय आपदा घोषित करे. साथ ही उन्होंने कृषि बीमा कंपनी के 380 करोड़ रुपये खरीफ-2019 के बीमा दावे का भुगतान शेष होने का जिक्र करते हुए किसानों के बकाया बीमा क्लेम का भुगतान जल्द कराने का आग्रह किया.

वहीं राजस्थान के नागौर से राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (RLP) के सांसद हनुमान बेनीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि वे टिड्डी को राष्ट्रीय आपदा घोषित करें और किसानों को राहत प्रदान करें.

उन्होंने कहा कि अधिकांश केन्द्र प्रवर्तित योजनाओं की वर्ष 2020-21 की प्रथम किस्त अभी तक जारी नहीं की गई है, किसान हित को देखते हुए इसे जल्द जारी किया जाए. उन्होंने केंद्र सरकार से अनुरोध किया कि विगत वर्षों में राज्य में निर्मित डिग्गियों के लिए 58.88 करोड़ रुपये का केन्द्रीय अंश एकमुश्त दिया जाए ताकि विगत वर्ष की बकाया देनदारियों का भुगतान किया जा सके.