राजधानी दिल्ली में 26 जनवरी को हुए हिंसक प्रदर्शन में कई किसान लापता हो गए हैं. ऐसे में लापता किसानों का पता लगाने के लिए दिल्ली सरकार ने मदद करने का वादा किया है. दिल्ली सरकार ने 115 लोगों की सूची जारी की है जो पुलिस के द्वारा गिरफ्तार किये गए हैं.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि उनकी सरकार प्रदर्शन स्थलों से गायब हुए किसानों की तलाश में मदद करेगी और जरूरत पड़ने पर उप राज्यपाल और केन्द्र से भी संपर्क करेगी.

दीप सिद्घू पर दिल्ली पुलिस ने रखा 1 लाख रुपये का इनाम, अन्य चार पर 50 हजार

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार यहां 26 जनवरी को हुई हिंसा के मामले में विभिन्न जेलों में बंद 115 लोगों के नामों की सूची भी सार्वजनिक करेगी.

उन्होंने संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ‘‘ हम 115 प्रदर्शनकारियों के नामों की सूची जारी कर रहे हैं जिन्हें गणतंत्र दिवस पर हिंसा के संबंध में पुलिस ने गिरफ्तार किया था और जो विभिन्न जेल में बंद हैं. हमारी सरकार लापता हुए प्रदर्शनकारियों का पता लगाने का हर संभव प्रयास करेगी और जरूरत पड़ने पर मैं उप राज्यपाल और केन्द्र सरकार से बातचीत करूंगा.’’

गणतंत्र दिवस हिंसा की जांच में SC का दखल से इनकार

संयुक्त किसान मोर्चा की कानूनी टीम के एक प्रतिनिधि दल ने मुख्यमंत्री से मुलाकात की और 29 लापता किसानों के नामों की सूची उन्हें सौंपी. इसमें किसानों के प्रदर्शन के खिलाफ कथित साजिश की न्यायिक जांच कराने और जेल में बंद लोगों की जांच के लिए चिकित्सकीय बोर्ड के गठन की मांग भी की गई है.

मुख्यमंत्री ने न्यायिक जांच की मांग पर कोई टिप्पणी नहीं की.