नयी दिल्ली,19अप्रैल (भाषा) राष्ट्रीय राजधानी में निरुद्ध क्षेत्रों की संख्या बढ़कर 13,259 हो गई है, वहीं एक अप्रैल को यह संख्या 2,183 थी।

दिल्ली सरकार की ओर से जारी आधिकारिक आंकडों में यह जानकारी दी गई है। इसमें कहा गया है कि एक अप्रैल से 18 अप्रैल के बीच ऐसे क्षेत्र 507 प्रतिशत बढ़े हैं।

संक्रमण के मामले बढ़ने के साथ ही निरुद्ध क्षेत्रों की संख्या भी बढ़ी है। एक अप्रैल को शहर में संक्रमण के 2,790 नए मामले सामने आए थे और 10,498 उपचाराधीन मामले थे। तब से ले कर अब तक संक्रमण के मामले कई गुना बढ़ गए हैं और 18 अप्रैल को शहर में संक्रमण के 25,462 नए मामले सामने आए और 74,941 उपचाराधीन मामले थे।

राष्ट्रीय राजधानी में 12अप्रैल से निरुद्ध क्षेत्रों की संख्या लगातार बढ़ रही है इसमें सबसे बढ़ा उछाल 18 अप्रैल को देखा गया, जिस दिन संक्रमण के सर्वाधिक मामले सामने आए थे।

इससे पहले 17अप्रैल को निरुद्ध क्षेत्रों की संख्या11,235 थी जो 18अप्रैल को बढ़कर 13,250 हो गई।

गौरतलब है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों और उनके कारण स्वास्थ्य प्रणाली पर पड़ रहे भार के मद्देनजर सोमवार रात दस बजे से 26 अप्रैल सुबह पांच बजे तक छह दिन के लॉकडाउन की घोषणा की है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली में बीते कुछ दिन से कोविड-19 के प्रतिदिन करीब 25,500 मामले सामने आ रहे हैं, जिससे स्वास्थ्य प्रणाली पर भार बहुत बढ़ गया है, लेकिन यह अभी ध्वस्त नहीं हुई है।