अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार ने बीते तीन साल की तरह ही इस साल भी दिल्ली में दिवाली के समय पटाखों के भंडारण, बिक्री एवं उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने का आदेश जारी किया है. ये फैसला प्रदूषण की खतरनाक स्तिथि को देखते हुए लिया गया है. 

अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, "पिछले 3 साल से दीवाली के समय दिल्ली के प्रदूषण की खतरनाक स्तिथि को देखते हुए पिछले साल की तरह इस बार भी हर प्रकार के पटाखों के भंडारण, बिक्री एवं उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया जा रहा है. जिससे लोगों की जिंदगी बचाई जा सके."

उन्होंने अपने ट्वीट में आगे लिखा, "पिछले साल व्यापारियों द्वारा पटाखों के भंडारण के पश्चात प्रदूषण की गंभीरता को देखत हुए देर से पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया जिससे व्यापारियों का नुकसान हुआ था. सभी व्यापारियों से अपील है कि इस बार पूर्ण प्रतिबंध को देखते हुए किसी भी तरह का भंडारण न करें."

बता दें कि दिल्ली को हर साल दीवाली के बाद और ठंड के मौसम में वायु प्रदुषण की खतरनाक स्थिति का सामना करना पड़ता है. 

सीएम अरविंद केजरीवाल और पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने राजधानी में प्रदूषण पर काबू करने के उपायों पर चर्चा करने के लिए मंगलवार को केंद्रीय पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव से मुलाकात का समय मांगा। इस संबंध में दिल्ली के पर्यावरण मंत्री के सचिव ने केंद्रीय मंत्री के निजी सचिव को एक पत्र लिखा है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की थी और उनके साथ विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की थी. 

बैठक के बाद मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, "राष्ट्रपति भवन में माननीय राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद जी से मुलाकात की. उनके साथ कई मुद्दों पर चर्चा की." बैठक की एक तस्वीर भारत के राष्ट्रपति के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर साझा की गई थी.

यह भी पढ़ें: रेप केस में फंसे सांसद प्रिंस राज, तो भाई चिराग पासवान ने सामने आकर कही ये बात

यह भी पढ़ें: राकेश टिकैत ने ओवैसी को बताया 'BJP का चाचा जान', कहा- ये A और B टीम हैं