नयी दिल्ली, 25 मई (भाषा) वाणिज्य मंत्रालय के तहत आने वाले विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने शुल्क मुक्त आयात अधिकार (डीएफआईए) स्क्रिप्स के हस्तांतरण के बारे में सूचना रिकॉर्ड करने के लिए एक सुविधा शुरू की है। इससे कागज रहित लेनदेन और कारोबार सुगमता में मदद मिलेगी।

डीजीएफटी ने यह सुविधा अपनी वेबसाइट पर बनाई है।

डीजीएफटी के एक व्यापार नोटिस में मंगलवार को कहा गया, ‘‘इलेक्ट्रॉनिक, कागज रहित लेनदेन और व्यापार की सुविधा के लिए डीएफआईए हस्तांतरण की सूचना रिकार्डिंग को ऑनलाइन किया गया है।’’

इसमें कहा गया है कि डीएफआईए स्क्रिप (ईडीआई बंदरगाहों के लिए) की कागजी प्रतियां देनी 7 जून से बंद कर दी जाएंगी।

हालांकि, गैर-ईडीआई (इलेक्ट्रॉनिक डेटा एक्सचेंज) बंदरगाहों के लिए डीएफआईए स्क्रिप्स की कागजी प्रतिभूति प्रतियां जारी की जाती रहेंगी।

नोटिस में कहा गया है, ‘‘इस तिथि को अथवा इसके बाद जारी डीएफआईए स्क्रिप्स का हस्तांतरण अनिवार्य रूप से आनलाइन प्रणाली पर रिकार्ड करना होगा। हस्तांतरण को रिकार्ड करना ईडीआई बंदरगाहों के साथ साथ गैर- ईडीआई बंदरगाहों के लिये भी अनिवार्य होगा।’’

डीएफआईए योजना के तहत निर्यातकों को कच्चा माल शून्य शुल्क पर आयात करने की अनुमति होती है। यह आयात तीन साल के भीतर किया जाना होता है।

भाषा अजय

अजय महाबीर

महाबीर