कोरोना महामारी की वजह से कई लोगों की आर्थिक स्थिति खराब हो गई थी. इसी दौर में सोशल मीडिया पर 'बाबा का ढाबा' काफी चर्चाओं में रहा था. बाबा का ढाबा के मालिक कांता प्रसाद सोशल मीडिया से चर्चाओं में आए थे जिन्हें लाखों रुपयों की मदद मिली थी. अब एक बार फिर वह चर्चाओं में हैं. मदद के पैसे से कांता प्रसाद ने रेस्टोरेंट खोला था लेकिन अब नुकसान के बाद वह एक बार फिर अपने मालवीय नगर स्थित ढाबे में लौट आए हैं. लेकिन अब कांता प्रसाद से लोग सवाल पूछ रहे हैं कि मदद में मिले पैसों का उन्होंने क्या किया.

यह भी पढ़ेंः कौन है अरुणा तंवर? भारत की ओर से पहली बार पैरालिंपिक में दिखेगा ताइक्वांडो का दम

कांता प्रसाद को कितने पैसे मिले थे?

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, बाबा का ढाबा के मालिक कांता प्रसाद ने बताया, 'मुझे पहले पता नहीं था कि मेरे खाते में कुल कितने पैसे आए हैं. अखबार के जरिए से पता चला कि करीब 45 लाख रुपये आए हैं. पहले यह 39 लाख था, फिर 45 लाख हुआ.'

कहा खर्च किए बाबा ने पैसे?

कांता प्रसाद के वापस लौट आने पर लोग कई तरह के सवाल पुछ रहें है कि आखिर बाबा ने लाखों रुपए कहा खर्च किए? इन्हीं सवालों का जवाब देते हुए बाबा ने बताया की उनके ज्यादातर पैसे पिछले साल दिसंबर में एक नया रेस्टोरेंट खोलने में लग गए, जिसके लिए उन्होंने करीब 5 लाख रूपए निवेश किए थे. इसके अलावा उन्होंने अपने घर में एक नई मंजिल बनवाई और अपना पुराना कर्ज चुकाया. वहीं, रेस्टोरेंट में हो रहे नुकसान पर भी पैसे खर्च किए. बाबा ने बताया 'मेरे पास सिर्फ 19 लाख रुपये बचे हैं.' उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि नया रेस्टोरेंट खोलने की गलत सलाह दी गई थी और भारी नुकसान का सामना करना पड़ा. अब बचे हुए पैसों को सुरक्षित भविष्य के लिए रखा है.'

यह भी पढ़ेंः जानें, एक चाय वाले ने पीएम नरेंद्र मोदी को क्यों किया 100 रुपये का मनी ऑर्डर

रातों-रात चर्च में आ गए थे कांता प्रसाद

बता दें कि पिछले साल यूट्यूबर गौरव वासन ने बाबा का ढाबा के मालिक कांता प्रसाद और उनकी पत्नी बादामी देवी का एक वीडियो शेयर किया था. इसके बाद उनकी किस्मत रातों रात बदल गई और ढाबे पर खाने वालों की लाइन लगने लगी. इसके अलावा बड़ी संख्या में लोग उनकी मदद के लिए सामने आए थे. हालांकि इसके बाद बाबा ने यूट्यूबर पर धोखाधड़ी का आरोप भी लगाया था. बाद में गौरव वासन ने कहा उनपर लगाए गए सारे आरोप जूठे है.

यह भी पढ़ेंः दुनिया में एक ऐसा देश जहां 2020 में नहीं दर्ज हुआ रेप का एक भी मामला

गौरव वासन के बारे में अब क्या कहा बाबा ने?

अब गौरव वासन के बारे में सवाल पूछे जाने पर कांता प्रसाद ने कहा, 'गौरव ने हमारी मदद की और उनके बारे में ऐसा कैसे कह सकते हैं कि उसने हमारे साथ धोखाधड़ी की. हमको बरगलाया गया था और कागज पर दस्तखत करवा लिए गए थे. हम तो बस ये जानना चाह रहे थे कि अकाउंट में कितना पैसा आया है.'

बाबा की एक बार फिर सुर्खियों में आने के बाद युट्यूबर गौरव वासन ने अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट की जिसमे उन्होने लिखा 'कर्मा' (karma) जैसे की वो कहना चाहते हो की बाबा ने खुद ही अपने लिए अर्श से फर्श तक की कहानी लिखी है.

यह भी पढ़ेंः TMC में वापसी कर मुकुल राय ने कहा- बंगाल की जो स्थिति उसमें BJP में कोई नहीं रहेगा