जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में हुए सोमवार को आतंकी हमले में विंध्य की माटी का वीर सपूत धीरेंद्र त्रिपाठी शहीद हुए थे. बुधवार को उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा. बता दें, इस हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के दो जवान शहीद समेत अन्य तीन घायल हुये थे.

शहीद धीरेंद्र श्रीनगर में पदस्थ थे और कांधी जल ब्रिज पर तैनात थे. आतंकियों ने घात लगाकर तब हमला किया जब पंपोर के कांधीजल ब्रिज पर CRPF की 110 बटालियन और जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवान रोड ओपनिंग ड्यूटी (ROP) पर तैनात थे.

मंगलवार को शहीद धीरेंद्र का पार्थिव शरीर देर शाम उनके पैतृक गांव ग्राम पड़िया जिला सतना पहुंचा. बुधवार सुबह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शहीद के गांव पहुंच पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर उनकी शहादत को नमन किया.

आपको बता दे कि शहीद के परिवार को श्रद्धा निधि के रुप में एक करोड़ रुपए और परिवार के एक सदस्य को शासकीय नौकरी दी जाएगी. वहीं, ग्राम पड़िया का शासकीय स्कूल का नाम भी शहीद के नाम पर होगा और शासकीय स्कूल में शहीद की प्रतिमा लगाई जाएगी. दोपहर बाद शहीद धीरेंद्र त्रिपाठी का उनके गृह ग्राम में अंतिम संस्कार,राष्ट्रीय सम्मान के साथ गार्ड ऑफ ऑनर दिया जाएगा.