2 मई को भारत के 5 राज्यों असम, तमिलनाडु, केरल, पुडुचेरी और पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनावों के नतीजे घोषित होंगे. सभी राज्यों में वोटों की गिनती 8 बजे शुरू होगी और शाम तक रिजल्ट सामने आ जाएंगे. 27 मार्च से इन राज्यों में मतदान शुरू हुए थे जिसकी प्रक्रिया 29 अप्रैल तक चली क्योंकि इस दिन पश्चिम बंगाल में अंतिम चरण के लिए मतदान हुए थे. अब राज्यों में मतगणना का समय आ गया है जो रविवार की सुबह 8 बजे से शुरू होना है. मगर कोरोना महामारी के बीच सुप्रीम कोर्ट ने कुछ आदेश चुनाव आयोग को दिए हैं जिनका पालन किया जाएगा. मगर वो आदेश क्या हैं आसान भाषा में समझिए.

सुप्रीम कोर्ट के आदेश

1. मतगणना कर्मियों का 29 और 30 अप्रैल को कोरोना की जांच करवाकर निगेटिव रिपोर्ट लेकर जाना होगा.

2. मतगणना स्थल पर सभी अधिकारी, कर्मचारी, मतगणना पर्यवेक्षक, सहायक माइक्रो पर्यवेक्षक, उम्मीदवार, एजेंट मास्क, ग्वल्स पहनकर ही काम कर सकते हैं.

3. प्रत्येक 5 राउंड के बास अधिकारियों और कर्मियों को अपने हाथ सैनेटाइज करके ग्लव्स बदलने होंगे.

4. मतगणना कर्मियों को गल्व्स, तीन मास्क, फेस शील्ड और पहचान पत्र लेकर ही उस जगह प्रवेश मिलेगा.

5. मतगणना के बाद किसी भी तरह के विजय जुलूस को निकालने पर पाबंदी रहेगी.

6. मतगणना क्षेत्र में किसी भी उम्मीदवार को जाने की अनुमति नहीं है.

7. उत्साह में अपने पार्टी दफ्तर पर भी पर किसी भी प्रकार का जश्न नहीं मना सकते हैं.

8. मतगणना के दौरान कोविड प्रोटोकॉल्स का सख्ती के साथ पालन किया जाना चाहिए.

9. सड़क पर किसी भी पार्टी के आदमी को उल्लास में जश्न मनाते पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

10. मतगणना वाली सभी जगहों पर सीसीटीवी कैमरे से चुनाव आयोग को नजर रखनी होगी.

यह भी पढ़ें- UP Panchayat polls: यूपी पंचायत चुनाव की मतगणना के लिए SC ने दी इजाजत

यह भी पढ़ें- UP के 7 जिलों में शुरु हुआ 18+ वालों का वैक्सीनेशन, CM योगी आदित्यनाथ ने की शुरुआत