केन्द्रीय गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने शनिवार को अनलॉक-4 (Unlock 4) के लिए दिशा-निर्देश (Guidelines) जारी किए, जिनके तहत मेट्रो ट्रेनों (Metro) को सात सितंबर से चरणबद्ध तरीके से संचालित करने की अनुमति दी जाएगी.

दिल्ली मेट्रो संचालन को लेकर दिल्ली परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने बताया, "मेट्रो स्टेशन में थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही अंदर आने देंगे, मास्क कंप्लसरी रहेगा, टोकन बंद रहेगा, स्मार्ट कार्ड द्वारा ही लोग सफर करेंगे. कंटेनमेंट ज़ोन्स के स्टेशन बंद रहेंगे और कुछ और स्टेशन भी बंद रहेंगे जिसकी लिस्ट जनता को दे दी जाएगी." 

उन्होंने आगे बताया, "अभी हम सारे प्रोटोकॉल्स को दोबारा देख रहे हैं. कल और परसों तक DMRC व ट्रांसपोर्ट अधिकारियों के साथ हमारी डिटेल में मीटिंग होगी." 

गृह मंत्रालय के परामर्श से आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय तथा रेल मंत्रालय द्वारा क्रमबद्ध तरीके से सात सितम्बर से मेट्रो रेल के परिचालन की अनुमति दी जाएगी.इस संबंध में आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) जारी की जाएगी.

सूत्रों ने बताया कि मेट्रो ट्रेनों को चलाने के लिए एसओपी पहले ही वितरित की जा चुकी है और आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा एक सितम्बर को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये इस पर मेट्रो कंपनियों के साथ चर्चा की जायेगी और इसे अंतिम रूप दिया जायेगा. सूत्रों ने बताया कि वीडियो कॉन्फ्रेंस में सभी सुझावों पर विचार किया जाएगा और इसके बाद एसओपी को अंतिम रूप दिया जाएगा.