भारतीय रेलवे (Indian Railway) कर्मचारियों से जुड़ी एक खबर वायरल हो रही है, जिसमें कहा जा रहा है कि रेलवे अपने कर्मचारियों के ओवर टाइम और यात्रा भत्तों में कटौती पर विचार कर रहा है. इस तरह की खबर में दावा किया जा राह है कि भत्तों में 50 फीसदी तक कमी की जा सकती है. हालांकि, रेलवे की ओर से न तो इस खबर से इनकार किया गया है और न ही इन दावों की पुष्टि की है.

इस खबर से रेलवे कर्मचारियों में हड़कंप मचा हुआ है. हालांकि इस खबर की पड़ताल PIB के द्वारा की गई है, जिसमें इस खबर को पूरी तरह से फेक बताया गया है.

PIB ने ट्विटर पर एक पोस्ट साझा किया है जिसमें इस खबर की पूरी पड़ताल की गई है. पीआईबी ने लिखा है, कुछ न्यूज में ये दावा किया जा रहा है कि भारतीय रेवले 13 लाख कर्मचारियों के ओवरटाइम और यात्रा भत्ते को 50 फीसदी तक कम करने की योजना बना रहा है. लेकिन पीआईबी फैक्ट चेक में ये दावा पूरी तरह से फेक है. रेल मंत्रालय ने ओवरटाइम और यात्रा भत्ता की दरों को कम करने का प्रस्ताव नहीं किया है.

यह भी पढ़ेंः COVID 19 Vaccine: स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा 'पूरे देश की आबादी को टीका लगाने की बात कभी नहीं कही'

बता दें, पीआईबी फेक न्यूज के खिलाफ अभियान चला रहा है, जिसमें पीआईबी की फैक्ट चेक टीम ऐसे खबरों की पड़ताल करती है.