कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने सिंघू और टीकरी बॉर्डर बंद किया हुआ है और अन्य स्थानों पर भी जांच बढ़ा दी है. इसके चलते राष्ट्रीय राजधानी के कई हिस्सों में सड़कों पर वाहनों की लंबी कतारों की वजह से सोमवार को जाम लगा रहा.

सिंघू और टीकरी बॉर्डर बंद है, क्योंकि किसानों ने इन कानूनों पर चर्चा करने के लिये केंद्र सरकार की ओर से रखी गई शर्त को मानने से मना कर दिया है.

इन बॉर्डरों के बंद होने की वजह से दिल्ली और हरियाणा के बीच अन्य वैकल्पिक मार्गों पर भारी यातायात है.

दिल्ली पुलिस ने ट्वीट किया, ‘‘सिंघू बॉर्डर अब भी दोनों ओर से बंद है. कृपया दूसरे मार्ग से जाएं. मुकरबा चौक और जीटीके रोड पर यातायात का मार्ग परिवर्तित किया गया है. भयंकर जाम लगा है. कृपया सिग्नेचर ब्रिज से रोहिणी और रोहिणी से सिग्नेचर ब्रिज, जीटीके रोड, एनएच-44 और सिंघू बॉर्डर के लिये बाहरी रिंग रोड पर जाने से बचें.’’

वहीं एक अन्य ट्वीट में दिल्ली पुलिस ने कहा, ‘‘टीकरी बॉर्डर भी यातायात के लिये बंद है. हरियाणा के लिए सीमावर्ती झाड़ौदा, ढांसा, दौराला झटीकरा, बडूसरी, कापसहेड़ा, राजोकरी एनएच-8, बिजवासन / बजघेरा, पालम विहार और डूंडाहेड़ा बॉर्डर खुले हैं.’’

दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर पर भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती है और वाहनों की जांच बढ़ा दी गई है.

पुलिस उपायुक्त (दक्षिण पश्चिम) इंगित प्रताप सिंह ने कहा, ‘‘हमें किसानों के यहां पहुंचने के संबंध में कोई जानकारी नहीं मिली है, लेकिन एहतियात के तौर पर हमने अपने बल तैनात किए हैं.’’

गुरुग्राम यातायात पुलिस ने भी यात्रियों को जाम की समस्या की जानकारी दी है.

अपने आधिकारिक हैंडल से ट्वीट करते हुए गुरुग्राम यातायात पुलिस ने कहा, ‘‘दिल्ली की तरफ जाने वाले मार्ग सरहौल टोल के निकट राष्ट्रीय राजमार्ग 48 पर यातायात जाम है क्योंकि दिल्ली में वाहनों का प्रवेश धीरे-धीरे हो रहा है. गुरुग्राम यातायात पुलिस यात्रियों की सहूलियत के लिए मौके पर तैनात है. असुविधा के लिए बेहद खेद है.’’